लखनऊ, जेएनएन। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने खनन घोटाले में देवरिया के तत्कालीन डीएम विवेक व तत्कालीन एडीएम देवी शरण उपाध्याय को नोटिस देकर पूछताछ के लिए तलब किया है। दोनों आइएएस अधिकारियों से अगले सप्ताह पूछताछ की तैयारी है। खनन घोटाले में ईडी इससे पूर्व आइएएस अधिकारी अभय सिंह व संतोष कुमार राय से पूछताछ कर चुकी है। 

सपा शासनकाल में हुए करोड़ों के खनन घोटाले में ईडी पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति समेत छह आइएएस अधिकारियों व अन्य की भूमिका की जांच कर रही है। हमीरपुर के बाद ईडी ने फतेहपुर, देवरिया, कौशाम्बी व शामली में हुए खनन घोटाले में भी अलग-अलग चार केस दर्ज किए हैं। इन केस में पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति, आइएएस अधिकारी अभय सिंह, संतोष कुमार राय, विवेक, देवी शरण उपाध्याय व जीवेश नंदन समेत अन्य के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएसए) के तहत केस दर्ज किये गये थे।

10 जुलाई को हुई थी ताबड़तोड़ छापेमारी

सीबीआइ ने सपा शासनकाल में हुए खनन घोटाले में 10 जुलाई को ताबड़तोड़ छापेमारी की थी। उस दौरान तत्कालीन डीएम बुलंदशहर अभय सिंह के सरकारी आवास से बरामद 47 लाख रुपये तथा आइएएस अधिकारी देवी शरण उपाध्याय के घर से 10 लाख रुपये बरामद किए थे। ईडी ने पूर्व में देवी शरण उपाध्याय को नोटिस देकर पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वह नहीं आये थे। बताया गया कि ईडी ने उन्हें दोबारा नोटिस देकर पूछताछ के लिए बुलाया है। इसके अलावा तत्कालीन डीएम देवरिया विवेक से ईडी अगले सप्ताह पहली बार पूछताछ करेगी। ईडी इसी कड़ी में कई खनन ठेकेदारों से लगातार पूछताछ कर रही है। अगले सप्ताह भी कुछ ठेकेदारों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। 

सीबीआइ ने अलग-अलग चार केस दर्ज किये 

सीबीआइ ने फतेहपुर, देवरिया, कौशाम्बी व शामली में हुए खनन घोटाले में अलग-अलग चार केस दर्ज किये थे। अभय सिंह के डीएम फतेहपुर के पद पर तैनात रहने के दौरान आवंटित किये गये खनन पट्टे जांच के दायरे में हैं। ईडी ने सीबीआइ के केसों को आधार बनाकर सपा सरकार के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति, आइएएस अधिकारी अभय सिंह, संतोष कुमार राय, विवेक, देवी शरण उपाध्याय व जीवेश नंदन समेत अन्य के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत अलग-अलग चार केस दर्ज किये थे। हमीरपुर में हुए खनन घोटाले के मामले में पहले से जांच कर रही ईडी ने अब फतेहपुर, देवरिया, कौशाम्बी व शामली में हुई धांधली के मामलों में अपनी कार्रवाई तेज की है। ईडी ने इस कड़ी में कई खनन पट्टा धारकों से भी पूछताछ की है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस