लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश में सपा सरकार के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का शिकंजा कसता जा रहा है। ईडी ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में पूर्व मंत्री गायत्री व उसके कुनबे की 36.94 करोड़ रुपये की संपत्तियां जब्त करने की कार्रवाई की है। इसके साथ ही गायत्री के विरुद्ध मनी लांड्रिंग के मामले में ईडी की विशेष अदालत में आरोपपत्र भी दाखिल किया गया है। इस पर संज्ञान के लिए 15 अप्रैल को सुनवाई होगी। ईडी के जोनल डायरेक्टर राजेश्वर सिंह का कहना है कि गायत्री व कुछ अन्य आरोपितों की कई संपत्तियां की जांच चल रही है। जल्द उन्हेंं भी जब्त करने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। इसके अलावा खनन घोटाले के मामले में भी पूर्व मंत्री गायत्री की संपत्तियों को जल्द अटैच किया जाएगा। पूर्व मंत्री गायत्री के विरुद्ध जांच एजेंसी ने यह पहली चार्जशीट दाखिल की है।

पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति व उसके परिवार की जो संपत्तियां अटैच की गई हैं, उनमें गायत्री, उनके परिजनों व कंपनियों के नाम खोले गए 57 बैंक खाते शामिल हैं। इन खातों में करीब 3.50 करोड़ रुपये जमा थे। इसके अलावा गायत्री व उसके कुनबे की 60 चल-अचल संपत्तियों को भी जब्त किया गया है, जिनकी कीमत 33.54 करोड़ रुपये है।

ईडी अधिकारियों का कहना है कि जब्त की गई इन संपत्तियों का वर्तमान बाजार मूल्य 55 करोड़ रुपये है। बताया गया कि गायत्री के परिवारीजन के 32 बैंक खाते व 17 संपत्तियां अटैच की गई हैं, जिनकी कीमत करीब 11.70 करोड़ रुपये है। कुछ बेनामी संपत्तियां भी अटैच की गई हैं। इसमें सात बैंक खाते व 17 अचल संपत्तियां शामिल हैं। इनकी कुल कीमत 2.77 करोड़ रुपये है। वहीं, गायत्री की कंपनियों के 12 बैंक खाते व 26 अचल संपत्तियां अटैच की गई हैं, जनकी कीमत 22.47 करोड़ रुपये है। जिन कंपनियों की संपत्तियां अटैच की गई हैं, उनमें एमजीए कालोनाइजर्स, एमजीए हास्पिटैलिटी सॢवसेज, एमएसए इंफ्रावेंचर, एमजीएम एग्रोटेक, कान्हा बिल्डवेल, दया बिल्डर्स, एक्सेल बिल्डटेक, लाइफक्योर मेडिकल एंड रिसर्च सेंटर प्राइवेट लिमिटेड व गुरुनानक कोल्ड स्टोरेज शामिल है।

जांच में सामने आया है कि गायत्री ने तमाम शेल कंपनियों के जरिए अपनी कंपनियों में रुपयों का निवेश कराया और उस रकम के जरिए संपत्तियां खरीदी गईं। गायत्री व उनके परिवारीजन ने आय से कई गुना अधिक कीमत की संपत्तियां खरीदी हैं। ईडी इस मामले की जांच जारी रखेगा। जल्द गायत्री की मुंबई, लखनऊ समेत अन्य शहरों में काली कमाई से जुटाई गई संपत्तियों को अटैच किया जाएगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021