लखनऊ, जेएनएन। मैनपुरी नवोदय विद्यालय की छात्रा की मौत के मामले में जांच और कार्रवाई को लेकर लापरवाह बने रहे आला अधिकारी सरकार के निशाने पर आ गए हैं। नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय तो रविवार को ही हटा दिए गए थे, सोमवार को जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय का भी तबादला कर दिया गया। अब महेंद्र बहादुर सिंह को डीएम बनाया गया है।

मैनपुरी के भोगांव निवासी संतोष पांडेय की बेटी नवोदय विद्यालय में पढ़ती थी। 16 सितंबर को उसका शव छात्रावास में पड़ा मिला। इस मामले में अब तक हुई जांच और कार्रवाई को लेकर पुलिस-प्रशासन पर सवाल उठ रहे थे। राजनीतिक दलों ने भी इस मामले को तूल देना शुरू कर दिया। पिछले दिनों कांग्रेस के पूर्व मंत्री जितिन प्रसाद छात्रा के परिवार वालों से मिलने पहुंचे तो शनिवार को पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा ने भी मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की थी।

अगले ही दिन रविवार को लापरवाही का जिम्मेदार मानते हुए पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय को हटाकर पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से संबद्ध कर विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी गई। एसआइटी गठित हो गई। सोमवार को डीएम प्रमोद कुमार उपाध्याय का भी तबादला कर दिया गया। उनके स्थान पर अपर आयुक्त गन्ना महेंद्र बहादुर सिंह को जिलाधिकारी बनाया गया है। वहीं, प्रमोद कुमार उपाध्याय अब अपर आयुक्त गन्ना की जिम्मेदारी संभालेंगे। एमबी सिंह पूर्व में रामपुर और बांदा के डीएम व प्रतापगढ़ के मुख्य विकास अधिकारी रह चुके हैं। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस