लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पर आज एक महिला की जिद से सनसनी फैल गई। कानपुर नगर के नवाबगंज में मकान नंबर 2/419 की रहने वाली हेमा श्रीवास्तव ने सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास पर पहुंचकर उनसे मिलने की जिद शुरू कर दी।

सीएम योगी के जन्मदिन पांच जून को लखनऊ पहुंची हेमा श्रीवास्तव अपने आप को उनकी प्रेमिका बता रही है और उसका दावा है कि योगी आदित्यनाथ पिछले एक वर्ष से ऑनलाइन सुबह से लेकर रात तक उसके साथ रहते हैं। यह महिला तलाकशुदा है और वह 100 रुपये के स्टांप पर प्रेम पत्र लिख कर ले आई है।

महिला वह योगी को सीधे सौंपना चाहती है और इस प्रेम पत्र में उसने बहुत कुछ लिखा है। हेमा का कहना है कि आपके व्यक्तिगत जीवन पर कुछ भी असत्य कहने पर क्या कार्रवाई हो सकती है इससे मैं बहुत अच्छी तरह से परिचित हूं। मुख्यमंत्री जी आप एक साल से सुबह से रात तक मेरे साथ ऑनलाइन रह रहे हैं और अब आपको वास्तविक जीवन में भी मेरे साथ रहना होगा। 

उसने लिखा है कि मुख्यमंत्री जी मेरा जीवन बहुत संघर्षपूर्ण रहा है और अभी भी है मेरा दुर्भाग्य रहा कि मैं बहुत सी खराब परिवार में पैदा हो गई। मेरा तलाक हो चुका है मैं अपने परिवार से केवल अपनी माता से रिश्ता मानती हूं। अन्य किसी भी व्यक्ति को मैं नहीं जानती मेरा किसी से कोई भी रिश्ता नहीं है। मेरी मम्मी ही मेरा सहयोग करती है वह ज्यादा समय तक मेरा सहयोग नहीं कर सकती, क्योंकि वह महिला हैं और काफी वृद्धा हैं। हेमा श्रीवास्तव के पिता का नाम सुनील श्रीवास्तव है और वह टेंट का कारोबार करते हैं।

लोगों का यह कहना है कि एक संत के ऊपर इस तरह की बातें कहना एक मूर्खता को दर्शाता है। फिलहाल मामला क्या है क्या युवती मानसिक रूप से बीमार है या इसकी वजह कोई और है यह तो पुलिस की पड़ताल में सामने आएगा। अभी इस विषय पर सरकार की ओर से कोई बयान नहीं है। सरकारी प्रवक्ता ने अनभिज्ञता जताई है।  

शादी के 10 दिन बाद ही छोड़ दी थी ससुराल

मुख्यमंत्री योगी से बातचीत और प्यार की बात का दावा करने वाली हेमा ने शादी के 10 दिन बाद ही अपने पति को दहेज प्रताड़ना के आरोप लगाकर छोड़ दिया था। उसकी शादी कॉपर में ही हुई थी। शादी के बाद तीन साल से घर पर न रहकर हॉस्टल में रहने लगी। मां निर्मला ने बताया कि बेटी के दिमाग मे योगी छाए हुए हैं। उसके उनके दिन रात वीडियो देखने से योगी की दीवानी हो गई है। कई बार समझने के बाद भी नहीं सुधरी। डॉक्टर के पास चलने की बात पर भड़क जाती। हॉस्टल की मरम्मत के चलते आजकल वह घर पर ही रह रही थी। बुधवार सुबह 9 बजे लखनऊ निकली और लखनऊ पहुंच गई।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप