लखनऊ, राज्य ब्यूरो। रामचरितमानस पर सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य की टिप्पणी को लेकर गरमाए सियासी माहौल के बीच भाजपा ने सपा पर सीधा हमला बोला है। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इसके लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को जिम्मेदार ठहराया है। कहा है कि स्वामी प्रसाद के बयान के बाद अखिलेश का मौन सवाल खड़े कर रहा है। सपा मुस्लिम तुष्टीकरण की घटिया राजनीति करने का असफल प्रयास कर रही है।

ड‍िप्‍टी सीएम केशव ने स्‍वामी प्रसाद को बताया अखिलेश यादव का भोपू

  • अखिलेश स्वामी प्रसाद के बयान पर अपना मत स्पष्ट करें। यदि सहमत नहीं हैं तो उन्हें अपनी पार्टी से बर्खास्त करें।
  • उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद ने मंगलवार को भाजपा मुख्यालय में कहा कि सपा में एक नए-नवेले नेता जो कई घाटों का पानी पीकर गए हैं, जिनकी वहां कोई हैसियत नहीं है।
  • अखिलेश यादव का भोपू बनकर उन्होंने रामचरितमानस से जुड़ी चौपाइयों पर बयान दिया।
  • फिर सपा के ही कुछ नेताओं ने उसका विरोध किया और खुद अखिलेश यादव चुप रहे। इससे सवाल खड़े होते हैं।

यूपी का माहौल खराब करने का प्रयास

यह उत्तर प्रदेश के माहौल को खराब करने का एक असफल प्रयास है। कहा कि डा.राममनोहर लोहिया ने कहा था कि भगवान श्रीराम इस देश का कर्म हैं, भगवान श्रीकृष्ण हृदय हैं और भगवान शिव मस्तिष्क हैं। अखिलेश इस पर भी अपना मत दें। कहा कि बिहार में जो काम लालू प्रसाद यादव की पार्टी के नेता कर रहे हैं, वही काम अखिलेश यादव की पार्टी के माध्यम से यहां किया जा रहा है। इस प्रकार के बयान की कड़ी आलोचना करता हूं।

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट