लखनऊ, जेएनएन। उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने सोमवार को कहा कि विद्यार्थी परिषद का मेधावी सम्मान समारोह मेधा शक्ति को बढाने में तैयार है। भारत आज दुनिया का सबसे युवा देश है। भारत में 65 फीसद युवा हैं और युवा ही भारत निर्माता है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी युवाओं को आगे बढ़ा रहे हैं। हर आंदोलन के मूल में युवा हैं। भाजपा की सरकारें युवाओं ने बनाई थीं। युवाओं ने देश को आगे बढ़ाया है। आजादी से पहले सारे क्रांतिकारी युवा ही थे। जिसका बड़ा उदाहरण स्वामी विवेकानन्द भी थे। मौका था, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रतिभा सम्मान समारोह का। यहां बतौर प्रमुख अतिथि के रूप में उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने शिरकत की। 

युवाओं को सकारत्मक रोच और सही मार्ग की ओर जाने का संदेश देते हुए डॉ दिनेश शर्मा ने कहा कि समय का बदलाव आया है। लोग युवाओं का दुरुपयोग करने लगे हैं। कर्मचारी और श्रमिक आंदोलनों में नकारात्मकता की ओर युवा बढ़ें। यहां से भारत तेरे टुकड़े वाले युवा भी सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रतिभा सम्मान समारोह में विभिन्न स्कूल कॉलेज के करीब 200 विद्यार्थियों को सम्मानित किया जा रहा है। जिसमें न केवल पढ़ाई बल्कि एनसीसी और एनएसएस के बच्चे भी शामिल रहे हैं।

केक काटना, बांटने और काटने की संस्कृति है

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आज युवाओं को अंकल और आंटी की संस्कृति से आगे बढऩा होगा। केक काटने की जगह परम्परागत तरीके से जन्मदिन मनाना चाहिए। केक काटना, बांटने और काटने की संस्कृति है, इससे निजात पानी होगी।

बता दें, फरवरी 2016 जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में भारत विरोधी नारे- 'भारत तेरे टुकड़े होंगे, इंशा अल्लाह... इंशा अल्लाह..., अफजल हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं..., भारत की बर्बादी तक जंग रहेगी, जंग रहेगी...' जैसे नारे लगाए गए थे। मामले में जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार समेत 10 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल हुई थी। 

 

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस