सीतापुर, जेएनएन। अयोध्या पर आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने शनिवार को कहा कि  सभी को इसका बेसब्री से इंतजार है। न्यायालय हम सबके लिए भगवान के समान है। इस मामले में न्यायालय जो निर्णय देगा, वह सभी के लिए मान्य होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का तो पहले से ही एजेंडा तय है कि सर्वानुमति या न्यायालय का निर्णय जो भी आएगा, उसका स्वागत है। मौका था, सीतापुर जिले स्थित नैमिषारण्य में चल रही श्रीमद् भागवत पारायण महायज्ञ के दूसरे दिन का। यहां उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा व कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही शनिवार को पहुंचे। 

इस दौरान उप मुख्यमंत्री ने कहा कि 500 से भी अधिक वर्षों के बाद अगर कोई फैसला आता है तो वह निश्चित रूप से इतिहास के पन्नों में दर्ज होगा। उन्होंने एक सवाल के जवाब में सपाइयों के अयोध्या में सौहार्द बनाए रखने की अपील पर भी चुटकी ली। उन्होंने सपा की तुलना 'बगुला' से कर कहा कि यह अच्छी पहल है। उन्होंने यह भी कहा कि योगी सरकार में कानून व्यवस्था को लेकर कहीं कोई दिक्कत नहीं है। 

उन्होंने आजम के सरकार पर हमले को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि सरकार पारदर्शी है। वह किसी भी शख्स के साथ भेदभाव नहीं करती। उप्र सरकार जल्द ही नैमिषारण्य विकास प्राधिकरण का गठन करने का विचार करेगी। उन्होंने कहा कि नैमिषारण्य सरकार की प्राथमिकताओं में है। यहां पर इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने का काम भी जल्द ही होगा।

बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियां भी परखीं

उप मुख्यमंत्री ने बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियों को लेकर भी डीएम अखिलेश तिवारी व शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने बताया कि अधिकारियों को दिशानिर्देश दिए हैं कि परीक्षाएं शुचिता से संपन्न हों। परीक्षा कक्ष में वॉयस रिकार्डिंग वाले सीसी कैमरे भी हों।

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस