लखनऊ, जेएनएन। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने परिवारवाद के बहाने कांग्रेस, सपा और बसपा पर जम कर हमला बोला। यह भी कहा कि भाजपा इन दलों की तरह खानदानी दल नहीं है। यहां हर कार्यकर्ता को उसकी क्षमता के अनुसार अवसर है। बुधवार को यहां विश्वेश्वरैया सभागार में भाजपा अनुसूचित मोर्चा की ओर से आयोजित धोबी समाज के सामाजिक प्रतिनिधि सम्मेलन में डॉ. शर्मा ने कहा कि नेहरू खानदान में उनसे लेकर राजीव गांधी तक प्रधानमंत्री बने, अब जो दावेदार हैं (राहुल गांधी) वह युवा नहीं 50 वर्ष के हैं। साथ ही वह आरती बाएं हाथ से करते हैं।

कांग्रेस बताए कि जगजीवनराम क्यों नहीं बने प्रधानमंत्री

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस से पूछा जाना चाहिए कि जगजीवनराम जैसे लोग प्रधानमंत्री क्यों नहीं बन सके? सपा में तो मुख्यमंत्री से लेकर ब्लाकप्रमुख तक सभी एक ही परिवार से थे। बसपा, भाई तक ही जाकर सिमट जाती है।भाजपा एक मात्र दल है जो डॉ. आंबेडकर और संत गाडगे के आदर्शो और उनके विचारों का सही मायने में सम्मान करती है। आज देश के सर्वोच्च पद पर अति दलित और प्रधानमंत्री पद पर अति पिछड़े वर्ग का व्यक्ति आसीन है। सर्वाधिक सांसद, विधायक और अन्य जनप्रतिनिधि भाजपा से ही हैं। सबका साथ सबका विकास हमारे लिए नारा नहीं मंत्र है। इससे सर्वाधिक विकास दलित और पिछड़ों का ही होगा।

डॉ. शर्मा ने कहा कि समाज को बांटकर वोट की फसल काटने वाले फिर सक्रिय हो गये हैं। सत्ता पाने के लिए यह कोई भी हथकंडा अपना सकते हैं। ऐसे लोगों के भुलावे में न आएं। इनके पास मोदी की आलोचना के अलावा गिनाने को कुछ भी नहीं है। डरे हुए ये लोग महागठबंधन की बात कर रहे हैं।

सम्मेलन को अनुसूचित मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष सांसद कौशल किशोर, विधायक बंबालाल दिवाकर, लाल बहादुर, दिनेश चौधरी, धनंजय कनौजिया, जयमंगल कनौजिया, संजीव दिवाकर, भगवती सागर, राजेश दिवाकर, रामचंद्र कनौजिया, रामनरेश महंत और अशोक महराज ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पार्टी के प्रदेश महामंत्री एवं अनुसूचित मोर्चे के प्रभारी गोविंद नारायण शुक्ला, सह प्रभारी ओम प्रकाश और धोबी समाज के लोग बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस