जागरण संवाददाता, लखनऊ। अब खाली बोतल व अन्य अनुपयोगी सामान को इधर-उधर फेंकने की जरूरत नही है। गारबेज एटीएम (रिवर्स वेंडिंग मशीन) आपकी मदद करेगा। इसमे बोतल व अन्य अनुपयोगी सामान डालने पर आपको पैसा भी मिलेगा।

नगर विकास मत्री सुरेश खन्ना ने मंगलवार को दो गाबरेज एटीएम का लोकार्पण किया। उन्होने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन की कड़ी मे कूड़े के निस्तारण और प्रदेश को स्वच्छ बनाने के उद्देश्य से स्थापित की गई गारबेज एटीएम मशीन एक क्रांतिकारी कदम है। आम शहरी कूड़े-कचरे को इस मशीन मे डालकर आमदनी भी कर सकते है। उन्होने कहा कि गारबेज एटीएम मशीन को पूरे उलार प्रदेश मे स्थापित किया जाएगा।

हजरतगज मे हनुमान मदिर के समीप और 1090 चौराहे के पास गारबेज एटीएम मशीन लगाई गई है। मंत्री ने कहा कि स्वच्छ एटीएम एक तकनीकी उपकरण है, जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के कूड़े-कचरे के निस्तारण के लिए किया जा सकता है। इसी मशीन में शहर के नागरिको को व्यवसायिक एव मार्केट एरिया मे कूड़े-प्लास्टिक के बोतल, कैन, रैपर व फलो के छिलके आदि के निस्तारण की सुविधा होगी। इस तरह की मशीन की स्थापना शहर के 10 स्थलो पर की जा रही है। इस मशीन मे कूड़ा डालने पर नागरिको को कूड़े वेस्ट की प्रकृति के अनुसार कैश बैक भी दिया जाएगा।

एटीएम पर लगे एलईडी पैनल से राज्य एव भारत सरकार की योजनाओ का डिस्प्ले किया जायेगा। एटीएम मे प्राप्त होने वाले वेस्ट को प्रकृति के अनुसार फर्म द्वारा रीसाइकिल किया जाएगा। नगर निगम की ओर से प्रति मशीन 6000 रुपये प्रतिमाह की दर से किराया देगा। इसके अलावा मंत्री ने वीवीआईपी गेस्ट हाउस के समीप वाटर एटीएम का भी शुभारम्भ किया। इस मशीन से दो रुपये मे एक गिलास, पांच रुपये मे एक लीटर शुद्ध ठडा पेयजल उपलब्ध होगा। इस अवसर पर प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिह निदेशक सूडा डॉ. देवेंद्र कुमार पांडेय, अपर निदेशक स्थानीय निकाय विशाल भारद्वाज और नगर आयुक्त उदयराज सिंह भी उपस्थित थे।

ऐसे काम करेगा गारबेज एटीएम  एटीएम में प्रवेश करने पर वहां लगी स्क्रीन से संचालन करना होगा। मोबाइल नंबर डालने पर ओटीपी आएगा। फिर आगे की कार्यवाही स्क्रीन पर मांगी जाने वाली जानकारी से देनी होगी। इसमें एप भी लोड करना होगा और ई-वॉलेट मे आपके पास पैसा आ जाएगा।