लखनऊ [नीरज मिश्र]। अब फलों के राजा दशहरी की बारी है। दुबग्गा मंडी इसका अहम पड़ाव होगा। लगातार दो माह तक मंडियों की रौनक बनाए रखने वाली दशहरी की आमद को लेकर दुबग्गा मंडी तैयार हो गई है। यहां से ही अलग-अलग जिलों और प्रांतों के लिए आम की खेप रवाना होगी। आम की बिक्री के लिए मंडी को दो चरणों में बांटा गया है, कच्चा और पका आम। आम की बिक्री के लिए तय हुआ वक्त मंडी में आम की बिक्री के लिए समय तय कर दिया गया है। कच्ची दशहरी रात आठ से सुबह चार बजे तक दुबग्गा मंडी से बिकेगी। सुबह दस बजे से दो बजे तक पकी दशहरी यानी पका हुए आम की थोक बिक्री की जाएगी। 

मंडी में रोज आता है 7,000 से 8,000 क्विवंटल आम मंडी सचिव संजय सिंह के मुताबिक दशहरी का सीजन तकरीबन दो माह का रहता है। इस दौरान करीब दो लाख क्विवंटल से अधिक आम की आवक होती है। मंडी में पूरी तरह से दशहरी छाई रहती है। कह सकते हैं कि जब तक दशहरी रहती है तब तक अन्य आम की मांग कम ही रहती है। थोक मंडी में 7000 से 8,000 क्विवंटल आम की रोज आवक रहती है। खपत भी करीब-करीब शत-प्रतिशत रहती है। दुबग्गा मंडी के अलावा आम मलिहाबाद फल पट्टी और अन्य क्षेत्राें से भी लोग सीधा पेटियों में उठाते हैं। 

निर्यातक आर्डर के साथ तैयार, पहली खेप भेजने को तैयार अब तक सउदी अरब के लिए साढे़ नौ सौ टन आम का आर्डर आ चुका है। इसके अलावा सैकड़ों टन के आर्डर अंतिम दौर में हैं। मस्कट, दुबई, ओमान आदि जगहों के आर्डर भी आ रहे हैं। मैंगो एक्सपाेर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं निर्यातक नदीम सिद्दीकी के मुताबिक तैयारियां अंतिम दौर में हैं। पहली विदेशी खेप जल्द रवाना होगी।

मैंगों पैक हाउस तैयार, रैपनिंग चैंबर में पकेगा आम मैंगों पैक हाउस तैयार हो गया है। आम की गुणवत्ता बरकरार रखने के लिए आम अब कार्बाइड जैसे रसायन से नहीं पकाए जाते हैं। इसके लिए रैपनिंग चैंबर व्यापारियों ने लगवा रखे हैं। आम को मात्र छह घंटे में बैक्टीरिया मुक्त करने के लिए मैंगों पैक हाउस में वीएचटी मशीन लगी है। बीते दिनों प्रमुख सचिव कृषि विपणन देवेश चतुर्वेदी, निदेशक मंडी जेपी सिंह ने बीते दिनों सचिव संजय सिंह के साथ मैंगो पैक हाउस का निरीक्षण कर सभी तैयारियों को अंतिम रूप देने के निर्देश दिए थे। वहीं बन रही नई मंडी का भी काम तेज करने के निर्देश प्रमुख सचिव ने दिए। 

पैकिंग बाक्स नवाब मेंगोज़ विदेशों में फैलाएंगे दशहरी की खुशबू, पहली बार पैकिंग बाक्स -निर्यातकों को इस बार मंडी 10,000 पैकिंग बाक्स कराएगा उपलब्ध। अब तक विदेशों को निर्यात किए जाने वाले आम की पैकिंग समेत अन्य तैयारियां ज्यादातर निर्यातक स्वयं ही करते थे। इस बार मंडी प्रशासन निर्यातकों को कार्ड बोर्ड के बने करीब दस हजार विशेष पैकिंग बाक्स उपलब्ध कराने जा रहा है। नवाब मैंगोज के नाम से तैयार करवाए गए इन बाक्स में नवाबी शहर के आम की विशेष वैरायटी मय तस्वीर दर्शायी गई हैं जो विदेशाें में आम की रंगत और महक से ग्राहक के बीच लखनऊ के रिश्ते जोड़ने का सीधे काम करेगी। मंडी सचिव संजय सिंह ने बताया कि पहली बार आम के बाक्स उपलब्ध कराए जा रहे हैं। सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस