लखीमपुर, संवाद सूत्र। लखीमपुर हिंसा के आरोपित लखीमपुर निवासी सभासद सुमित जायसवाल, लखनऊ निवासी नंदन सिंह, कौशांबी निवासी सत्यम त्रिपाठी व तिकुनिया के बनवीरपुर निवासी शिशुपाल की दोबारा 48 घंटे की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर ली गई है। चारों आरोपित 28 अक्टूबर को सुबह दस बजे से 30 अक्टूबर सुबह दस बजे तक पुलिस कस्टडी में रहेंगे। एसआइटी ने चारों आरोपितों से पूछताछ व सह आरोपितों से आमना सामना कराने के लिए दोबारा मंगलवार को तीन दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड पर दिए जाने की बाबत सीजेएम कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। पुलिस कस्टडी रिमांड की अर्जी की प्रति आरोपितों के अधिवक्ता को प्राप्त करा दी गई थी।

बुधवार को चारों आरोपितों को जेल से तलब कर सीजेएम कोर्ट लाया गया। अभियोजन पक्ष से एसपीओ एसपी यादव ने बहस करते हुए दोबारा तीन दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड दिए जाने की याचना की। आरोपितों के अधिवक्ता अवधेश कुमार सिंह ने बहस करते हुए कोर्ट को बताया कि चारों आरोपितों से पहले तीन दिनों की पुलिस कस्टडी में लेकर पूछताछ व साक्ष्य संकलन कर चुकी है।

दोबारा रिमांड पर लेने की अर्जी का जोरदार विरोध किया। दोनों पक्षों की बहस सुनने के दो घंटे बाद सीजेएम ने फैसला सुनाया। सीजेएम चिंता राम ने चारों आरोपितों सुमित जायसवाल, नंदन सिंह, सत्यम त्रिपाठी व शिशुपाल की 48 घंटे की दोबारा पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर दी। चारों आरोपित 28 अक्टूबर सुबह दस बजे से 30 अक्टूबर सुबह दस बजे तक पुलिस कस्टडी रिमांड में रहेंगे।

Edited By: Vikas Mishra