लखनऊ, जेएनएन। Corona Warriors : कोरोना वायरस के खिलाफ लोगों की जंग जारी है। इस बीमारी के संक्रमण को देखते हुए लाखों लोग अपने घर में रहकर इस बीमारी को फैलने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं। इस बीच लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए कई योद्धा हर दिन मैदान में उतर रहे हैं। इन्हीं में से एक यूपी पुलिस में कंस्टेबल दिव्यांशु यादव हैं। वह अपनी पुलिस की ड्यूटी निभाने के साथ मास्क, सैनिटाइजर, भोजन के पैकेट और पानी भी बांटते हैं। उनकी कोशिश है कि सब सुरक्षित रहें और सबको भोजन मिलता रहे।

ऐसी ही कोरोना वॉरियर रीबू पटेल भी हैं। वह भी यूपी पुलिस में कंस्टेबल हैं। ड्यूटी के साथ वह गरीब और जरूरतमंद महिलाओं की मदद भी करती हैं। इससे उन्हें सन्तुष्टि मिलती है। जब से लॉकडाउन हुआ है तब से दर्शन यादव भी अपनी टीम के साथ गरीबों और जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं। वह अपनी पुलिस की ड्यूटी भी कर रहे हैं और इंसानियत का धर्म भी निभा रहे हैं।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने किया अभिनंदन

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कोरोना योद्धा पुलिस कांस्टेबल दिव्यांशु यादव के जज्बे को सैल्यूट करते हुए कहा कि उनकी कोशिश रहती है सब सुरक्षित रहें और सबको भोजन मिलता रहे, उनका अभिनंदन। मौर्य ने सोमवार को कहा कि कोरोना वॉरियर कांस्टेबल दिव्यांशु यादव, बाराबंकी में पुलिस अधीक्षक के साथ स्कॉर्ट ड्यूटी पर हैं और उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालते हैं। वह सुबह के काम खत्म करने के बाद जब एसपी फील्ड में जाते हैं तो वह उनके साथ रहते हैं। उनकी टीम मास्क, सैनिटाइजर, भोजन के पैकेट और पानी बांटती है।

बुजुर्ग की मदद की तो मिला आशीर्वाद

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि दिव्यांशु की कोशिश है कि सब सुरक्षित रहें और सबको भोजन मिलता रहे। कुछ दिन पहले उन्होंने सड़क पर 65 साल के एक व्यक्ति को अकेले चलते देखा। दिव्यांशु ने उससे पूछा कि क्या उन्हें भोजन चाहिए तो उसकी आखों में आंसू आ गए। उनकी टीम ने उसके हाथ सैनिटाइज कराकर उसे भोजन और पानी दिया। उस व्यक्ति ने उनकी टीम को धन्यवाद कहा और आशार्वाद दिया। उन्होंने बताया कि ऐसे कई राहगीरों की मदद दिव्यांशु करते रहते हैं। कभी किसी को भोजन कराते हैं तो कभी किसी को मास्क और सेनिटाइजर देते हैं। उनकी कोशिश है कि लॉकडाउन के दौरान सभी सुरक्षित हों और गरीब व जरूरतमंदों को भोजन उपलब्घ कराया जा सके। उनका परिवार भी उन्हें लगातार इसके लिये प्रेरित करता है। उनकी टीम इंसानों के साथ कुत्ते और बंदरों आदि को भी भोजन करा रही है।

गरीबों की जंग कोरोना और गरीबी दोनों से 

बाराबंकी जिले के दरियाबाद पुलिस स्टेशन में कांस्टेबल पद पर तैनात रीबू पटेल के जज्बे को आज हर कोई सलाम कर रहा है। वह इंट्रीग्रेटेड ग्रिवियेंस रिड्रेसल सिस्टम में आनलाइन काम करती हैं। इस पोर्टल पर लोग अपनी शिकायत दर्ज करते हैं। वह क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क सिस्टम पर भी काम करती हैं। जब से उन्होंने ड्यूटी संभाली तब से कोई बैकलॉग नहीं है। उनके अधिकारी भी उनकी प्रशंसा करते हैं। जब से लॉकडाउन हुआ है तब से रीबू कई महिलाओं और लड़कियों की मदद कर चुकी हैं। वह इस कोशिश में रहती हैं कि जितना हो सके जरूरतमंदों की मदद कर सकें, इससे उन्हें संतुष्टि मिलती है। उनका कहना है कि कोरोना से तो पूरी दुनिया लड़ रही है, लेकिन गरीबों की जंग कोरोना और गरीबी दोनों से है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस