लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में बुधवार का दिन बेहद मनहूस खबर वाला रहा। देश में सर्वाधिक जनसंख्या वाले इस राज्य में दो लोगों की कोरोना के संक्रमण से मौत हो गई। देश में अभी तक के सबसे युवा बस्ती के 25 वर्षीय युवक के साथ मेरठ के 73 वर्षीय बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। इसके बाद भी पॉजिटिव केस की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज(KGMU) से जारी रिपोर्ट के अनुसार आज प्रदेश में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केस में की संख्या 116 है। इसके साथ संदिग्ध भी 116 की अभी रिपोर्ट आनी बाकी है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पॉजिटिव का आंकड़ा 116 पहुंच गया है। बुधवार सुबह आगरा का एक नया प्रकरण सामने आया है। इसके साथ ही गोरखपुर से एक तथा बुलंदशहर से दो मामले सामने आ गए। गोरखपुर से जो सैंपल आया था, वह बस्ती के युवक का था। जिसने सोमवार रात को ही दम तोड़ दिया था। उत्तर प्रदेश में अब तेजी से कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ती जा रही है। 

प्रदेश में 16 जिलों में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केस मिले हैं। इनमें सर्वाधिक 48 पॉजिटिव नोएडा में मिले हैं। उनमें अधिकतर एक निजी कंपनी के कर्मचारी व अधिकारी शामिल हैं। इसके अलावा मेरठ में 19, आगरा में 12, लखनऊ में नौ, गाजियाबाद में आठ, बरेली में छह, बुलंदशहर में तीन, पीलीभीत व वाराणसी में दो- दो और लखीमपुर खीरी, गोरखपुर, शामली, मुरादाबाद, कानपुर, जौनपुर व बागपत में एक-एक मरीज पाया गया है। दूसरी ओर अभी तक कोरोना वायरस के पॉजिटिव पाए गए 17 लोगों को अस्पताल से छुट्टी भी दी जा चुकी है। इसमें आगरा के आठ, नोएडा के छह गाजियाबाद के दो व लखनऊ का एक संक्रमित शामिल हैं। 

लखनऊ के केजीएमयू की लैब से आज दो रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। इनमें आगरा निवासी 54 वर्षीय पुरुष के साथ बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती बस्ती निवासी 25 वर्षीय युवक की है। इनके सैंपल केजीएमयू में भेजे गए थे। इनके साथ ही बुलंदशहर में कोरोना पॉजिटिव युवक की पत्नी के साथ उसकी मां तथा पत्नी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव है। इस युवक में तीन दिन पहले ही कोरोना वायरस पॉजिटिव मिला था।

कनाडा से लौटी बहू से कोरोना वायरस का संक्रमण लेने वाली वृद्ध महिला की हालत मंगलवार को बिगड़ गई। लखनऊ में सेना के बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना संक्रमित महिला को वार्ड से आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया। उनके परिवार के तीन सदस्यों को भी क्वारंटाइन में भेज दिया गया। वृद्धा की बहू कनाडा से आई थीं। कोरोना की पुष्टि होने पर बहू को केजीएमयू में भर्ती कराया गया था। इसी बीच बहू के संपर्क में आने से 73 वर्ष की वृद्ध महिला की तबीयत भी बिगडऩे लगी। महिला को सेना के बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 28 मार्च को भर्ती कराया गया था। उनकी पहली रिपोर्ट निगेटिव आई थी, जबकि पुणे से आई दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। कल रात उनकी तबियत अचानक बिगड़ गई। रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता गार्गी मलिक सिन्हा ने बताया कि महिला को अभी आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। कमांड अस्पताल में भर्ती एक अन्य शख्स में भी कोरोना के लक्षण पाए जाने पर उसके नमूने भी जांच के लिए पुणे भेजे गए हैं। 

आगरा में 12 पॉजिटिव

आगरा में एक और कोरोना संक्रमित की पुष्टि हुई है। बेटा के बाद अब डॉक्टर में संक्रमण की पुष्टि हुई है। अब तक जिले में मिलेे कोरोना वायरस के मामले में 12 वां केस है। यहां जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह के अनुसार नौंवे मरीज के डॉक्टर पिता में करोना वायरस की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। उन्हें आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। पूरी एहतियात बरती जा रही है। उनके आवास और हॉस्पिटल को तीन किमी के दायरे को सेनेटाइज किया गया है। 26 मार्च को डॉक्टर के बेटे में कोरोना संक्रमण मिला था। यह चिकित्सक दंपती बाईपास रोड पर एक प्राइवेट हॉस्पीटल का संचालन करते हैं। इनका पुत्र 20 मार्च को अमेरिका से दुबई होते हुए भारत लौटा था। 21 मार्च को वह आगरा पहुंचा। तब से डॉक्टर दंपती बेटे को घर में ही रखे थे। बेटे के जुकाम व बुखार का इलाज यह डॉक्टर दंपती अपने ही अस्पताल करते रहे। ट्रेवल हिस्ट्री के आधार पर स्वास्थ्य विभाग टीम चिकित्सक दंपती के अस्पताल पर पहुंची। बेटे के बारे में पूछताछ की, उसके स्वास्थ्य की जांच की गई तो बुखार निकला। कोरोना टेस्ट कराया गया तो उसकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई। इस मामले में चिकित्सक पर महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद चिकित्सक दंपती के परिसर को सेनेटाइज कराया गया। उनके अस्पताल में तीन मरीज भी भर्ती थे और उनके साथ तीमारदार भी। कुल मिलाकर हॉस्पीटल से डॉक्टर दंपती, मरीज, तीमारदार एवं स्टाफ सदस्यों समेत 25 लोगों को एसएन मेडिकल कॉलेज स्थित आइसोलेशन वार्ड में ले जाया गया। यहां सभी का कोरोना टेस्ट कराया गया। उस समय तो सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। एहतियातन डॉक्टर दंपती को क्वारंटाइन किया गया था। स्वास्थ्य विभाग लगातार डॉक्टर दंपती की जांच कर रहा था। डॉक्टर में कोरोना वायरस की पुष्टि के बाद आगरा में यह 12 वां केस है।

संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ विकास इंदु अग्रवाल ने  बताया कि यूपी में अभी तक 2812 संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के लिए लैब भेजे जा चुके हैं और इसमें से 2621 लोगों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है यानी इनमें कोरोना वायरस नहीं पाया गया है। वहीं 88 लोगों की जांच रिपोर्ट अभी आना बाकी है। 

विदेश यात्रा से लौटे 11166 लोग मंगलवार को चिह्नित

यूपी में मंगलवार को चीन सहित कोरोना प्रभावित देश की यात्रा कर लौटे 11166 लोगों को चिह्नित किया गया। इसमें से 2619 लोग ऐसे पाए गए जो कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में थे। इन्हें स्वास्थ्य विभाग की रैपिड रिस्पांस टीम की निगरानी में 28 दिनों के लिए होम क्वारंटाइंन में रखा गया है। अब तक विदेशों से लौटे कुल 53147 लोगों को चिह्नित किया जा चुका है।

तारीख                संक्रमित की संख्या

7  मार्च              08

12 मार्च              11

14 मार्च              12

15 मार्च              13

17 मार्च              15

19 मार्च              19

20 मार्च              23

21 मार्च              26

22 मार्च              29

23 मार्च              33

24 मार्च              37

25 मार्च              39

26 मार्च              43

27 मार्च              51

28 मार्च              65 

29 मार्च               82 

30 मार्च              97

31 मार्च              103

01 अप्रैल            116

 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस