लखनऊ, जेएनएन। डॉ. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय के दीक्षा समारोह में मुख्य अतिथि पद़्म विभूषण जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने कहा राम सांप्रदायिक नहीं हैं। राम सबके हैं। राम को समझें। रा से राष्ट्र और म से मंगल। राम का अर्थ है राष्ट्र मंगल।

गुरुवार को विवि का छठा दीक्षा समारोह धूमधाम से आयोजित हुआ। समारोह में 85 छात्र छात्राओं को 112 मेडल मिले। एमएससी (एप्लाइड सांख्यिकी) की विधि पांडेय को चांसलर, वाइस चांसलर व मुख्यमंत्री गोल्ड मेडल और वैष्णवी गोपाल को चांसलर, वाइस चांसलर और मुख्यमंत्री सिल्वर मेडल से नवाजा गया। वहीं एमएससी आइटी के हर्षल कुमार जायसवाल को चांसलर ब्रांज व मुख्यमंत्री व कुलपति गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया।

   

दीक्षा समारोह के मुख्य अतिथि और रामभद्राचार्य दिव्यांग विवि के कुलपति रामभद्राचार्य ने विद्यार्थियों से कहा कि देश भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है। मोदी और योगी के आने से लोगों की गलत ढंग से होने वाली कमाई पर अंकुश लगा है। आप ईमानदारी की राह पर चलें। जीवन का हर एक दिन राष्ट्र निर्माण में समर्पित करें।

उन्होंने कहा पूजा में भगवान को गुलाब नहीं चाहिए, न ही उन्हें लखनऊ की रेवड़ी चाहिए। आप निश्छल भाव से अपने कर्म करते रहें। खुद भर भरोसा रखते हुए आगे बढ़ें। उन्होंने कहा दिव्यांगों में दिव्यशक्ति है। समारोह की अध्यक्षता कर रही राज्यपाल व कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल ने टीबी ग्रस्त बच्चों को गोद लेने की नसीहत दी। साथ ही पानी का दुरुपयोग न करने की, शादी समारोह में खाने को बर्बाद न होने और पॉलीथीन का प्रयोग न करने की नसीहत दी। 

दिव्यांग प्रकृति की विशेष संतान

दिव्यांग सशक्तिकरण एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग मंत्री अनिल राजभर ने विद्यार्थियों से कहा आप लोगों से अपेक्षाएं बहुत हैं, उनपर खरा उतरने का प्रयास करें। उन्होंने दिव्यांग छात्रों को प्रकृति की विशेष संतान बताया। कुलपति प्रो. रानाकृष्ण पाल सिंह ने कहा जल्द ही विवि परिसर में एक से इंटरमीडिएट तक का सुविधा संपन्न समेकित विद्यालय शुरू किया जाएगा। इस मौके पर अपर मुख्य सचिव दिव्यांगजन विभाग महेश कुमार गुप्ता, कुलसचिव अमित कुमार सिंह, परीक्षा नियंत्रक अमित राय, असिस्टेंट रजिस्ट्रार बिंदु त्रिपाठी समेत तमाम लोग मौजूद रहीं। समारोह में इंडिया साइन लैंग्वेज की इंटरप्रटर चांदनी सोनवानी द्वारा राष्ट्रगान व कुलगीत पर सांकेतिक प्रदर्शन सराहनीय रहा।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस