लखनऊ, जेएनएन। फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार को जिला उपभोक्ता फोरम प्रथम के वरिष्ठ सदस्य राजर्षि शुक्ला ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। यह कार्रवाई हादसे का शिकार हुए बाइक सवार की शिकायत पर की गई है। उनका दावा है कि सड़क पर चल रहे अभिनेता का विज्ञापन देखकर उनका ध्यान भटका और एक्सीडेंट हो गया। 

लखनऊ निवासी एसके शर्मा के मुताबिक, वे 29 सितंबर को फन रिपब्लिक मॉल के सामने अपनी बाइक से जा रहे थे। वहीं पर डिवाइडर के ऊपर सूचना विभाग की लगाई गई बड़ी स्क्रीन पर अक्षय कुमार का विज्ञापन चला रहा था। इसमें अभिनेता ट्रैफिक पुलिस की वर्दी पहनकर यातायात नियमों की जानकारी दे रहे थे। एसके शर्मा का कहना है कि सड़क के बीचो-बीच दिखाए जा रहे विज्ञापन ने उनका ध्यान खींचा, जिससे आगे जा रहे वाहन से उनकी बाइक टकराकर क्षतिग्रस्त हो गई। वह गंभीर रूप से घायल हो गए।

बाइक को वह किसी तरह रिक्शे पर लादकर फैजाबाद रोड ले गए और अस्पताल में अपना इलाज कराया। बाइक की मरम्मत के साथ ही उनके इलाज में साढ़े चार लाख रुपये का खर्च आया। उन्होंने फोरम में शिकायत दर्ज कराकर साढ़े चार लाख रुपये मुआवजा दिलाए जाने की मांग की। साथ ही 25 हजार रुपये मानसिक व शारीरिक कष्ट के लिए और 25 हजार रुपये वाद व्यय दिलाए जाने की मांग की। शिकायत में अभिनेता अक्षय कुमार और प्रमुख सचिव सूचना एवं जनसंपर्क विभाग आरोपित बनाया है। फोरम ने उनकी शिकायत का संज्ञान लेते हुए गुरुवार को अक्षय कुमार को नोटिस जारी कर दिया, जिसका जवाब उन्हें 30 दिन के भीतर देना होगा।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस