सीतापुर, जेएनएन।  कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू रविवार की देर शाम कमलेश तिवारी के घर पहुंचे। यहां पर पुलिस बल पहले से मौजूद था। जिसने मात्र छह लोगों को घर के अंदर जाने की इजाजत दी। जिस पर कांग्रेस अध्यक्ष घर के अंदर गए और परिवार से मुलाकात की। करीब 15 मिनट तक परिवार से मुलाकात करने के बाद जब वे बाहर आए तब प्रदेश सरकार पर तीखा हमला किया। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून का राज खत्म हो गया है। उत्तर प्रदेश हत्या का प्रदेश बनता जा रहा है। हत्याओं का दौर चल निकला है। पूरे प्रदेश में अघोषित आपातकाल लगा हुआ है। हर तरफ अराजकता का माहौल है। सुप्रीम कोर्ट उत्तर प्रदेश को जंगलराज बता चुका है। 

उन्होंने कहा कि इस दुख की घड़ी में कांग्रेस पार्टी कमलेश तिवारी के परिवार के साथ खड़ी है। अगर सरकार इन्हें इंसाफ नहीं देती है। तब कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता पीडि़त परिवार को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर उतरेंगे। सरकार को चाहिए कि पीडि़त परिवार की बात सुने और निष्पक्ष जांच करें। इस मौके पर विधायक दल की नेता अनुराधा मिश्रा मोना, कांग्रेस जिलाध्यक्ष विनीत दीक्षित, मीसम अम्मार रिजवी आदि मौजूद रहे।

फुटेज की जांच में जुटी पुलिस

सीओ उदय प्रताप सिंह ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की शिकायत मिली है। वीडियो फुटेज खंगाले जा रहे हैं। यदि कोई सच्चाई सामने आती है, तब ऐसे लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।

फर्जी अकाउंट बनाकर सहानुभूति में मांग रहे संदिग्ध रुपये 

एसपी एलआर कुमार ने जिले में अलर्ट जारी किया है। एसपी का कहना है कि कमलेश तिवारी की हत्या का नाम लेकर कुछ लोगों ने फर्जी अकाउंट तैयार किए हैं। जिसमें कमलेश तिवारी की पत्नी व माता की फोटो लगाकर सहानुभूति दर्शाते हुए बैंक के अकाउंट व पेटीएम नंबर जारी कर मदद के रूप में पैसे मांगे जा रहे हैं। यदि ऐसी कोई पोस्ट वायरल होती है या कोई सूचना प्राप्त होती है। तब उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

डीएम ने घर जाकर लिया परिजन का हाल

वहीं, जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी देर रात महमूदाबाद में कमलेश तिवारी के घर पहुंचे। उन्होंने परिवारजनों से हालचाल जाना। जिसके बाद जिलाधिकारी पत्रकारों से मुखातिब हुए। उन्होंने बताया कि परिवारजनों की पहली मांग मुख्यमंत्री से मिलने की थी। इस वजह से परिवार को मुख्यमंत्री से मिलवा दिया गया है। सुरक्षा को लेकर भी मांग की थी। सुरक्षा व्यवस्था पूरी कर दी गई है और जो मदद तत्कालीन हो सकती है वो भी की जा रही है। 

जिन मांगों में समय लग सकता उनकी कार्रवाई शुरू कर दी गई है और समय से मदद की जाएगी।

 

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप