लखनऊ (जेएनएन)। मिशन 2019 की तैयारी में जुटी कांग्रेस स्थानीय स्तर मुद्दें तलाश करेगी। पार्टी की रिसर्च व एनालिसिस विंग को रणनीति तैयार कर शीर्ष नेतृत्व सौंपेगी। बनारस के गौरव कपूर को प्रदेश की कमान सौंपते हुए ब्लाक स्तर तक संगठन बनाने को कहा गया है।गौरव का कहना है कि केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर जल्द युद्धस्तर पर कार्रवाई शुरू होगी। चुनावी मुद्दों की तलाश के साथ केंद्र व राज्य सरकार के कामकाज व भ्रष्टाचार की पोल खोलने वाले तथ्य भी जुटाए जाएंगे। साथ ही कांग्रेस राज में किए गए जनहित के कार्य और लोक कल्याणकारी योजनाओं का फीडबैक लेकर उसको चुनावी एक्शन प्लान में शामिल किया जाएगा। किसान, युवा व गरीबों को केंद्र में रखते हुए रणनीति को बनाएंगे।

दलित सुरक्षा सम्मेलनों से पूर्व संगठन में छंटनी

कांग्रेस मुख्यालय में गुरुवार को अनुसूचित जाति विभाग की बैठक में दलित सुरक्षा सम्मेलनों की तैयारियों पर चर्चा की गई। चेयरमैन भगवती प्रसाद चौधरी की अध्यक्षता में आहूत बैठक मेंप्रभारी शशांक शुक्ला भी मौजूद थे। मीडिया प्रभारी सिद्धिश्री ने बताया कि 26 फरवरी से 18 अप्रैल तक होने वाले मंडलीय सम्मेलनों में ढि़लाई बरतने वाले पदाधिकारियों की छुट्टी होगी। इन दलित सुरक्षा व संविधान बचाओ सम्मेलनों में मीरा कुमार, सुशील कुमार शिंदे, के राजू, जेडी शीलम व कुमारी शैलजा जैसे नेता शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश सागर को पदमुक्त किया गया। इसके अलावा सोशल मीडिया का गठन करके सुशील बाल्मीकि को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

मंत्री कर रहें गरीबों का शोषण

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने आरोप लगाया कि योगी सरकार के मंत्री व विधायक गरीबों की जमीन व मकानों को कब्जाने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि ललितपुर के ग्राम बालाबेहट में सरकार के एक प्रभावशाली मंत्री ने प्रशासन का दुरुपयोग करते हुए कुंदन पुत्र पन्ना आदि कई परिवारों के मकानों पर जबरिया बुलडोजर चलवाकर कब्जा करा दिया है। पीडि़त परिवार लखनऊ में मुख्यमंत्री से न्याय पाने को भटक रहे हैं लेकिन, सुनवाई नहीं हो रही है। अग्रवाल ने पूरे मामले की जांच कराने व संबंधित मंत्री को बर्खास्त करने की मांग की।

Posted By: Nawal Mishra