लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के विकास खंड सांगीपुर में शनिवार को कांग्रेस और भाजपा समर्थकों के बीच मारपीट की घटना को लेकर राजनीति भी तेज हो गई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता और उनके समर्थकों पर गंभीर आरोप लगाते हुए मामले की न्यायिक जांच कराए जाने की मांग की है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि वह प्रतापगढ़ में हुई अशोभनीय घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि गरीब कल्याण दिवस समरोह में भाजपा सांसद व कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से उपद्रव, अराजकता व मारपीट की और सरकारी कार्यक्रम को बाधित किया, वह दुर्भाग्यपूर्ण है।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक व उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधान मंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना व पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी आमंत्रित थे। साथ ही स्थानीय सांसद संगम लाल गुप्ता भी आमंत्रित थे। कार्यक्रम स्थल पर आराधना मिश्रा व प्रमोद तिवारी निश्चित समय पर पहुंच गए थे। कार्यक्रम में सांसद के पहुंचने पर विधायक आराधना मिश्रा ने अभिवादन करते हुए अपनी कुर्सी ससम्मान सांसद को सौंप दी थी। आरोप है कि सांसद के साथ आये कुछ अराजक तत्वों ने सभागार में नारेबाजी व बदसलूकी शुरू की।

सांसद के साथ आए ओम प्रकाश पांडेय उर्फ गुड्डू ने निजी राजनैतिक रंजिश निकालने के लिए अभद्रता की और धमकी दी। मारपीट के लिए अपने लोगों को उकसाया। लल्लू का कहना है कि इसका वीडियो भी है। सांसद झूठ फैलाकर व जिला प्रशासन को दबाव में लेकर एकतरफा कार्रवाई करा रहे हैं।

बता दें कि प्रतापगढ़ में रामपुर विधानसभा क्षेत्र के सांगीपुर ब्लाक परिसर में शनिवार को गरीब कल्याण मेले के दौरान हुआ बवाल हो गया। भाजपा सांसद संगमलाल गुप्ता पर हमले तथा कांग्रेस व भाजपा कार्यकर्ताओं में मारपीट को लेकर पुलिस क्षेत्राधिकारी (सीओ) लालगंज जगमोहन निलंबित कर दिए गए। उन पर समुचित फोर्स उपलब्ध नहीं कराने का आरोप है। पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी, विधायक आराधना मिश्रा मोना पर चार और मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

जिला पंचायत सदस्य के बेटे सहित दर्जन भर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया है। इस कार्रवाई को एकतरफा बताते हुए संग्रामगढ़ और सांगीपुर बाजार बंद रखा गया तो कटरा में सांसद समर्थकों ने प्रमोद तिवारी का पुतला फूंका। सांसद देर शाम लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले और उन्हें पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। इधर, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी का कहना है कि शासन उच्चस्तरीय कमेटी से जांच करा ले, स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

Edited By: Umesh Tiwari