अयोध्या, संवाद सूत्र। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 28 सितंबर को रामनगरी में होंगे। वह लता मंगेशकर चौक का लोकार्पण करने के साथ 23 अक्टूबर को प्रस्तावित दीपोत्सव की तैयारियों को निर्णायक स्पर्श देंगे। गुरुवार काे मुख्यमंत्री के आगमन और दीपोत्सव से जुड़ी तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री के सलाहकार अवनीश अवस्थी और पर्यटन एवं संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम रामनगरी पहुंचे। उन्होंने रामकथा संग्रहालय में मंडल एवं जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

इस दौरान जिलाधिकारी नितीश कुमार ने दीपोत्सव के संबंध में संक्षिप्त विवरण के साथ निर्माणाधीन लता मंगेशकर चौक के निर्माण का विवरण प्रस्तुत किया। मुख्यमंत्री के सलाहकार ने मुख्यमंत्री के आगमन से जुड़ी सभी तैयारियां 24 सितंबर तक प्रत्येक दशा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने दीपोत्सव स्थल राम पैड़ी क्षेत्र में ढीले विद्युत तार तथा जर्जर पोल बदलने, पेंटिंग कार्य पूर्ण कराने तथा वहां स्थित हनुमान जी की मूर्ति के सुंदरीकरण का निर्देश दिया।

बैठक में बताया गया कि लता मंगेशकर चौक के लोकार्पण अवसर पर स्वर कोकिला से संबंधित प्रदर्शनी एवं लघु फिल्म का भी प्रदर्शन होगा। बैठक में दीपोत्सव के आयोजन से जुड़े सिंचाई, लोक निर्माण, सूचना, पर्यटन एवं संस्कृति, उद्यान, विद्युत, परिवहन विभाग, विकास प्राधिकरण, नगर निगम सहित डा. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि मौजूद रहे। पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव ने दीपोत्सव की तैयारियां मानक के अनुसार एवं आपसी समन्वय के आधार पर करने का निर्देश दिया।

उन्होंने याद दिलाया कि इस बार का दीपोत्सव कोविड के संक्रमण से मुक्त है। ऐसे में भीड़ काफी बढ़ सकती है और इसी हिसाब से हमें भीड़ नियंत्रण के लिए तैयार रहना होगा। बैठक में मंडलायुक्त नवदीप रिणवा, डीआइजी अमरेंद्र प्रसाद सिंह, एसएसपी प्रशांत वर्मा, नगर आयुक्त विशाल सिंह, एडीएम सिटी सलिल कुमार पटेल, सीएमओ डा. अजय राजा, परियोजना निदेशक आरपी सिंह आदि उपस्थित रहे। बैठक के बाद अधिकारियों ने निर्माणाधीन लता मंगेशकर चौक एवं राम की पैड़ी का भ्रमण किया।

Edited By: Vikas Mishra