लखनऊ, जेएनएन। धुंध के साथ ही वायु प्रदूषण से असहज होती स्थिति पर अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद सख्त होने जा रहे हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर उनके प्रमुख सचिव शशि प्रकाश गोयल ने शनिवार को सभी जिलाधिकारियों के साथ एसपी को भी पराली जलाने पर रोक के बाद भी अंकुश न लगने पर सख्ती बरतने को कहा है।

वातावरण में फैल रहे प्रदूषण का एक प्रमुख कारण पराली जलाने पर रोक के बाद भी इसका असर न होने पर सरकार बेहद गंभीर है। पराली जलाने पर रोक की तहसीलवार सघन निगरानी की जा रही है। सैटेलाइट सर्वे और स्थलीय जांच के आधार पर लगातार किसानों को नोटिस देने के साथ उनको हिरासत में लेने के मामले सामने आने पर भी इसपर रोक नहीं लग पा रही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब पराली जलाने के मामले पर बेहद ही सख्त हैं। उन्होंने अपने प्रमुख सचिव शशि प्रकाश गोयल को इस मामले में अब बेहद सख्त कदम उठाने का निर्देश दिया है। इसके बाद प्रमुख सचिव एसपी गोयल ने सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से प्रदेश के सभी कमिश्नरों तथा जिलाधिकारी से वार्ता की है।

केंद्र सरकार पराली जलाने की घटनाओं का समय-समय पर सैटेलाइट के माध्यम से सर्वे कराया जाता है। इस सैटेलाइट सर्वे में हजारों लोगों को चिन्हित किया गया। इस सर्वे रिपोर्ट के जिलास्तर पर भेजे जाने के बाद जांच प्रारंभ हुई। जिसके आधार किसानों पर कार्रवाई भी भी गई है। किसानों को पराली जलाने को लेकर नोटिस जारी किया गया है। इसके बाद भी प्रदेश में पराली जलाने का काम जारी है। 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप