लखनऊ। मेरठ में इंटर की छात्राओं पर सोमवार को फब्तियां कसने के विरोध पर गांव के छात्रों से जमकर मारपीट की गई। प्रधानाचार्य द्वारा कोई कार्रवाई न करने से आक्रोशित ग्रामीणों ने एक धाॢमक स्थल से एलान कराकर गांव के सैकड़ों बच्चों को स्कूल जाने से रोक दिया। उधर, पुलिस ने भी मामले में रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

गोटका स्थित इंटर कालेज में बपारसी के सैकड़ों छात्र-छात्राएं पढ़ते हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि गोटका के छात्र आए दिन छात्राओं से छेड़छाड़ करते हैं। विरोध पर उनसे मारपीट करते हैं। सोमवार को भी बपारसी की छात्राओं पर फब्तियां कसने का गांव के छात्रों ने विरोध किया तो उन्हें मारपीट कर घायल कर दिया। इसे लेकर ग्र्रामीण प्रधानाचार्य सुशील कुमार से मिले, लेकिन उन्होंने संतोषजनक जवाब नहीं दिया। इस पर मंगलवार को ग्रामीणों ने गांव के धाॢमक स्थलों से एलान कराकर छात्र-छात्राओ को कालेज जाने से रोक दिया। ग्रामीणों ने थाने में 14 आरोपियों के खिलाफ तहरीर भी दी, मगर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

Posted By: Ashish Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप