अंबेडकरनगर, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जेल से अपराधिक गतिविधियों पर पूरी तरह रोक लगे, इसके लिए हर संभव उपाए किए जा रहे हैं। वह सोमवार को जिले में नव निर्मित जिला कारागार का लोकार्पण करने बाद सभा को संबोधित कर रहे थे। 105 करोड़ की लागत से निर्मित जिला कारागार के लोकार्पण पर सीएम ने कहा शासन की व्यवस्था कानून के रास्ते संचालित होती है। अपराध बढ़ने पर कानून सख्त होना चाहिए। यह तभी संभव है जब बेहतर पुलिसिंग हो और पेशेवर अपराधी जेल में रहें। प्रदेश सरकार इस दिशा में प्रभावी कार्य कर रही है।

सीएम ने कहा, जेल अपराधियों का शरणगाह नहीं बल्कि उन्हें सुधारने की व्यवस्था है। इसलिए सरकार ऐसी गतिविधियों पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए जिलों के आधुनिकरण की दिशा में कार्य कर रही है। यह प्रदेश की 72वीं जेल है और सभी जेलों में सीसी कैमरे के साथ डिजिटल व्यवस्था की गई है, जिससे लखनऊ में बैठकर जेलों की हर गतिविधि पर नजर रखी जा सके। अपराधी सजा पाए इसके लिए सरकार हर दिशा में कार्य कर रही है। आज ही सरकार ने 218 फास्ट ट्रेक कोर्ट बनाने को मंजूरी दी है। 

मुख्‍यमंत्री ने कहा, जेवर में देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनाया जाएगा। यह एयरपोर्ट 2023 तक तैयार हो जाएगा तो इससे लाखों लोगों को रोजगार मिलेगा। साथ ही हर साल एक लाख करोड़ रुपये का लाभ भी सरकार को मिलेगा। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को औद्योगिक गलियारा बताते हुए सीएम ने कहा इससे जहां दिल्ली की दूरी 8-10 घंटे के बजाय पांच से साढे पांच घंटे तक सिमट जाएगी, वहीं यह एक्सप्रेसवे पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास का रीढ़ साबित होगा।

इस दौरान उन्होंने जेल में बंद कैदियों के लिए सकारात्मक सोच विकसित करने की दिशा में भी कार्य करने को जेल अधिकारियों को निर्देशित किया। कहा, जेल केवल सजा के लिए नहीं बल्कि सुधार के लिए भी है। इसलिए सकारात्मक दिशा में ऐसे लोगों को मोड़ने के लिए उन्हें आजीविका से भी जोड़ा जाएगा। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस