लखनऊ, जेएनएन। लखनऊ विश्वविद्यालय के शारीरिक शिक्षा विभाग में बुधवार को बीपीएड और एमपीएड मिड सेमेस्टर परीक्षा को लेकर जमकर विवाद हुआ। शिक्षकों के बीच चल रही आपसी लड़ाई का खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ा। शिक्षकों ने एक ही विषय का अपना-अपना बनाया हुआ पेपर बांट दिया। समय से पहले परीक्षा शुरू करने की वजह से कई छात्रों की परीक्षा भी छूट गई। शिकायत पर मौके पर पहुंचे डीन आर्ट प्रो. बृजेश कुमार शुक्ला ने छात्रों को आश्वासन दिया।

बुधवार को बीपीएड और एमपीएड मिड सेमेस्टर की परीक्षा थी। बीपीएड में प्रिंसिपल एंड हिस्ट्री आफ फिजिकल एजुकेशन और एमपीएड प्रथम सेमेस्टर में अनुसंधान प्रोसेज फिजिकल एजुकेशन का पेपर था। छात्रों का आरोप है कि सुबह 11 बजे से परीक्षा होने की सूचना डा. नीरज जैन ने दी थी लेकिन, एक घंटा पहले 10 बजे से ही परीक्षा शुरू करा दी गई, जिससे कई छात्रों की परीक्षा छूट गई। यही नहीं, जो परीक्षार्थी परीक्षा में बैठे उन्हें शिक्षकों ने दो प्रकार के प्रश्न पत्र बांट दिए। दो पेपर देख छात्र परेशान हो गए। उन्होंने डीन से इसकी शिकायत की, जबकि डा. जैन का कहना है कि उन्होंने अपना पेपर समय से दिया था।

लविवि आर्ट डीन, प्रो. बृजेश कुमार शुक्ला ने बताया कि शारीरिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों का आपसी विवाद है। एमएड में डा. नीरज जैन का बनाया हुआ पेपर छात्रों को दिया जाना चाहिए था, लेकिन उनका पेपर समय से न मिलने पर दूसरे शिक्षक ने अपना पेपर दे दिया। जिन छात्रों की परीक्षाएं छूटी हैं, उनकी दोबारा करवाई जाएंगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप