लखनऊ, जागरण संवाददाता। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नाम से बीते दिनों अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को लेकर किसी ने विवादित पोस्ट इंटरनेट मीडिया के माध्यम से वायरल की गई। मामले में सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने अज्ञात शरारती तत्वों के खिलाफ गौतमपल्ली थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। साइबर क्राइम सेल मामले की जांच कर रही है।

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के मुताबिक बीते 22 जुलाई को इंटरनेट मीडिया पर एक पोस्ट वायरल होते देखी। जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नाम से भ्रामक तथ्य थे। पोस्ट में दावा किया गया कि सपा की सरकार बनने पर अयोध्या में राम मंदिर की जगह बाबरी मस्जिद का निर्माण कराया जाएगा। प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि जिस ट्विटर से यह पोस्ट डाली गई उस तरह का कोई भी ट्विटर अकाउंट राष्ट्रीय अध्यक्ष का नहीं। उन्होंने बताया कि यह किसी शरारती तत्व ने किया है।

यह पार्टी और राष्ट्रीय अध्यक्ष की छवि बिगाडऩे के लिए मकसद से किया गया है। नरेश उत्तम ने रविवार शाम को इस मामले में गौमतपल्ली थाने पहुंचकर तहरीर दी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। इंस्पेक्टर रत्नेश सिंह ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ आइटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच साइबर क्राइम सेल द्वारा की जा रही है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्यवाही की जाएगी।

Edited By: Anurag Gupta