लखनऊ, जेएनएन। नागरिक संशोधन बिल के विरोध के कारण जगह-जगह बवाल को लेकर प्रदेश सरकार बेहद सतर्क है। इस विरोध से निपटने के लिए सरकार ने अगले सात दिन तक सभी जिलों के डीएम तथा एसपी की छुट्टियों को निरस्त कर दिया है।

नागरिक संशोधन बिल के विरोध में प्रदेश में अलीगढ़ के साथ ही लखनऊ तथा अन्य जिलों में बवाल को देखते हुए प्रदेश सरकार बेहद सतर्क है। इस बिल के विरोध में दिल्ली की जामिया मिलिया के बाद अलीगढ़ में मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र सड़कों पर उतरे। इन सभी ने वहां तोडफ़ोड़ करने के साथ ही वबाल किया। लखनऊ के नदवा में भी रविवार रात के बाद आज छात्रों ने देश विरोधी नारे लगाए और पुलिस पर पथराव किया। दारुल उलूम नदवातुल उलेमा (नदवा कालेज) में छात्रों ने जमकर बवाल किया।

सरकार ने इस बिल के विरोध में बढ़ते बवाल को देखते हुए के सभी डीएम और पुलिस कप्तानों की अगले सात दिन तक छुट्टियां निरस्त कर दी हैं। लखनऊ में सोमवार को नदवा कॉलेज के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस पर पथराव कर दिया। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने सभी डीएम और पुलिस कप्तानों की अगले 7 दिन तक की छुट्टियां निरस्त कर दी हैं। सभी को निर्देश दिया गया है कि अगले सात दिन तक कोई भी डीएम और एसपी/एसएसपी मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश सरकार ने इस मामले में काफी सख्त रुख अपनाते हुए पूरे प्रदेश में 31 दिसंबर 2019 तक धारा 144 लागू कर दी है। प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने यूपी के सभी डीएम और पुलिस कप्तानों की अगले सात दिन तक की छुट्टियां निरस्त कर दी हैं। इसके साथ ही निर्देश दिया गया है कि अगले सात दिन तक सभी डीएम और एसपी/एसएसपी मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे। इस संबंध में मुख्य सचिव ने आदेश जारी कर दिया है। निर्देशों में कहा गया है कि सभी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक जिला मुख्यालय पर रहकर जिलों पर नजर नजर रखेंगे।

एएमयू के बाद सोमवार को लखनऊ के नदवा कॉलेज में सोमवार को छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया। एएमयू में जहां छात्रों और पुलिस के बीच हुए संघर्ष के बाद 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि 56 लोग नामजद हैं। एएमयू छात्रों को छात्रावास खाली करने के कड़े निर्देश दिये गये हैं।

दारुल उलूम नदवातुल उलेमा (नदवा कॉलेज) में पांच जनवरी तक अवकाश घोषित किया गया है। आज इसके अंदर से छात्रों ने नारेबाजी की और पथराव भी किया। पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने बताया कि अलीगढ़, मेरठ और सहारनपुर में अगले आदेश तक इंटरनेट सेवाएं बंद रखने के आदेश दिए गये हैं।

30 फीसदी छात्रों ने खाली किया हॉस्टल

अलीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुल्हरी ने बताया कि 56 नामजद तथा कई अज्ञात छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में सोमवार सुबह से हालात बिल्कुल सामान्य है। एएमयू परिसर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात है। एएमयू में पांच जनवरी तक छुट्टी घोषित कर दी गयी है। छात्रों ने छात्रावास खाली करना शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया अभी तक 25 से 30 फीसदी छात्र छात्रावास खाली कर चुके हैं। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने आज शाम तक सभी छात्रावास खाली हो जाने की उम्मीद जताई है। एएमयू के प्रॉक्टर अफीफुल्लाह खान ने बताया कि किसी भी छात्र को छात्रावास में अब रहने की इजाजत नहीं है। छात्रों से छात्रावास खाली करने को कहा गया है। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस