लखनऊ, जेएनएन। गोल्ड मेडलिस्ट रेसलर की भाजपा नेता के घर मौत के मामले में तीन दिन पूर्व थाने में पांच घंटे तक चली पंचायत के बाद अब रविवार दोपहर रेशम के परिवारीजन थाने पहुंचेंगे। अगर पंचायत से हल न निकला तो अब पुलिस रेसलर के परिवारीजनों की तहरीर पर भाजपा नेता रुखसाना के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर सकती है। 

इंस्पेक्टर ठाकुरगंज नीरज ओझा ने बताया कि अब रेसलर रेशम सिंह के परिवारीजनों के पक्ष का इंतजार है। वह जो भी लिखित में देंगे उसके आधार पर मामले में अम कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि बुधवार रात को रेसलर के परिवारीजनों और रुखसाना के बीच करीब पांच घंटे थाने में पंचायत हुई थी। दोनों ने अपने-अपने पक्ष रखे थे। उसके बाद रेसलर के भाई गुलजार ने दो दिन का समय मांगा था। अब तीन दिन बीत चुके हैं। उनसे संपर्क किया गया तो उन्होंने रविवार को थाने आकर अपना पक्ष रखने की बात कही है। 

  

यह भी पढ़ें: 

यह है मामला 

भाजपा नेता रुखसाना नकवी के घर पर बीती 14 जुलाई को रेसलर रेशम सिंह का शव फंदे पर लटका मिला था। 13 की रात रेशम सिंह अपने साथी बारिश के साथ रुखसाना के घर पहुंचा था। सूचना पर पहुंचे मृतक के भाई गुजलार सिंह और पिता व अन्य परिवारीजनों ने हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने थाने में इस संबंध में तहरीर भी दी थी। पर पुलिस ने रिपोर्ट अब तक नहीं दर्ज की थी। रेशम सिंह हरदोई बालामऊ के कुकही के रहने वाले थे। दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में कुस्ती लड़ी थी। बीते वर्ष 2018 में नेपाल से कुस्ती में गोल्डमेडलिस्ट थे, जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मानित किया था। 

 

Posted By: Divyansh Rastogi