लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। विधानसभा और लोकसभा से लेकर निकाय चुनाव में भी भाजपा ने अपना परचम फहराया है, लेकिन शिक्षक और स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद चुनाव में पार्टी पहली बार पूरी तैयारी से उतरेगी। मई 2020 में स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से परिषद की 11 सीटों पर चुनाव होने हैं। इसमें संगठन के साथ ही एमपी और एमएलए भी चुनावी पतवार संभालेंगे। क्षेत्र और जिलेवार जिम्मेदारी तय कर दी गयी है। 

भाजपा मुख्यालय में प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने इस चुनाव को लेकर संगठन के पदाधिकारियों से पहली बार मंत्रणा की। आगरा स्नातक, बरेली-मुरादाबाद, वाराणसी शिक्षक, प्रयागराज-झांसी, मेरठ स्नातक, आगरा शिक्षक, गोरखपुर-फैजाबाद शिक्षक, मेरठ शिक्षक, वाराणसी स्नातक, लखनऊ शिक्षक, लखनऊ स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव होने हैं। स्नातक क्षेत्र के लिए एक अक्टूबर से वोटर बनाने की प्रक्रिया शुरू होगी। चुनाव के लिए क्षेत्रवार संगठन से एक पदाधिकारी को संयोजक और एक विधायक को प्रभारी बनाया गया है।

चुनाव वाले संबंधित जिलों में संयोजक बनाये जाने के साथ ही भाजपा के सभी विधायकों और सांसदों की भी जवाबदेही तय की गई है। नगर पालिका, नगर पंचायत और ब्लाक स्तर पर बनने वाले मतदान केंद्रों के सापेक्ष वोटर बनाए जाने हैं। शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र में भी क्षेत्रवार और जिलेवार जिम्मेदारी दी गई है। माध्यमिक और उच्च शिक्षण संस्थाओं में जनसंपर्क के साथ भाजपा के अभियान को गति देने के लिए पदाधिकारियों के साथ ही जनप्रतिनिधि भी सक्रिय होंगे। स्नातक चुनाव अभियान से जुड़े अजय त्यागी बताते हैं कि बुद्धिजीवी वर्ग भाजपा से सर्वाधिक प्रभावित हैं और उन्हें अपनी क्षमता दिखाने का यह बड़ा अवसर होगा।

चुनाव के लिए कटारिया को बनाया संयोजक

भाजपा ने स्नातक और शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र की 11 सीटों पर चुनाव के लिए प्रदेश महामंत्री अशोक कटारिया को संयोजक, प्रदेश महामंत्री नीलिमा कटियार और मंत्री अमरपाल मौर्य को सह संयोजक बनाया है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Umesh Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप