लखनऊ, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह मंगलवार को लखनऊ पहुंच गए हैं। उनके साथ प्रदेश के सह प्रभारी सुनील ओझा, सत्या कुमार व संजीव चौरसिया भी आए हैं। राधा मोहन सिंह दो दिसंबर को पार्टी मुख्यालय पर होने वाली भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक सहित अन्य बैठकों में उपस्थित रहकर आगामी संगठनात्मक कार्यक्रमों और विषयों पर चर्चा करेंगे।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह का चैधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और अन्य पार्टी पदाधिकारियों व प्रमुख नेताओं ने स्वागत किया। प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीष दीक्षित ने बताया कि यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह ने हजरतगंज स्थित आवास पर पहुंचकर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और बिहार व मध्य प्रदेश के राज्यपाल रहे स्वर्गीय लालजी टण्डन के चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय बहादुर पाठक, दयाशंकर सिंह, प्रदेश महामंत्री जेपीएस राठौर, गोविन्द नारायण शुक्ला सहित कई अन्य पार्टी पदाधिकारी भी उपस्थित रहे।

बीजेपी के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक बुधवार को सुबह 11 बजे से राज्य मुख्यालय पर होगी। प्रदेश महामंत्री गोविन्द नारायण शुक्ला ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह की उपस्थिति व प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा, सत्या कुमार, संजीव चैरसिया, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल व प्रदेश सह संगठन महामंत्री सहित पार्टी के प्रदेश पदाधिकारी शामिल होंगे। गोविन्द नारायण शुक्ला ने बताया कि प्रदेश पदाधिकरियों की बैठक के बाद क्षेत्रीय अध्यक्षों के साथ भी बैठक होगी। प्रदेश प्रभारी पार्टी कार्यालय पर आयोजित अन्य संगठनात्मक बैठकों में भी सम्मलित होंगे।

बता दें कि पिछले दिनों भारतीय जानता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह को उत्तर प्रदेश में पार्टी का प्रभारी बनाया है। वहीं सुनील ओझा, सत्या कुमार और संजीव चौरसिया को उत्तर प्रदेश का सह प्रभारी नियुक्त किया है। प्रभारी और सह प्रभारियों की नियुक्ति को वर्ष 2022 में प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव की प्रारंभिक व्यूह रचना के तौर पर देखा जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में वर्ष 2022 में होने वाला विधानसभा चुनाव सत्ताधारी भाजपा के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। भाजपा के प्रदेश सह प्रभारी रह चुके राधा मोहन सिंह उत्तर प्रदेश की सियासी नब्ज को पहचानने के साथ पार्टी में अपनी सांगठनिक क्षमता के लिए जाने जाते हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और जनसंघ से ताल्लुक रखने वाले राधा मोहन छह बार सांसद चुने जाने के अलावा बिहार भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप