लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल पर सपा, बसपा और कांग्रेस ने सवाल खड़े किए तो भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने उन पर पलटवार किया। उन्होंने बयान जारी कर कहा कि विपक्षी दल 'योगी फोबिया' से ग्रस्त हैं। सपा, बसपा और कांग्रेस की हालत रेत में सिर छुपाए शुतुरमुर्ग जैसी है और उनको योगी सरकार में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, ग्रामीण क्षेत्रों के उत्थान सहित सभी क्षेत्रों में हुए सर्वांगीण विकास कार्य दिखाई नहीं दे रहे हैं। इन पार्टियों की जमीन प्रदेश में खिसक गई है। सत्ता वापसी के इनके सपने बिखर गए हैं। इनका काम केवल भ्रामक, तथ्यहीन व बेबुनियाद प्रोपेगेंडा चलाकर जनता को सिर्फ और सिर्फ भ्रमित करना है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि अपराधियों की मसीहा सपा, सरकार के विरोध में बोलने का हक खो चुकी है। वह योगी सरकार के खिलाफ सिर्फ इस वजह से बोल रही है, क्योंकि उसके शासनकाल में पोषित और संरक्षित माफियाराज के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अभियान छेड़ रखा है। उन्होंने कहा कि जनता के आशीर्वाद में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा भारी बहुमत से विजयी होगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि सपा को चिंता प्रदेश के गरीब, वंचित, किसान, युवा, महिला और व्यापारी वर्ग की नहीं है। उसे चिंता उसके माफिया मित्रों के अवैध निर्माणों पर चल रहे सरकारी बुलडोजर की है। सपा को नहीं भूलना चाहिए कि उत्तर प्रदेश की जनता उसे एक बार नहीं दो बार बुरी तरह से खारिज कर चुकी है।

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि राजनीतिक पर्यटन पर प्रदेश में आने वालों को यह नहीं भूलना चाहिए कि उत्तर प्रदेश के निवासी उन्हें तीन दशक पहले ही नकार चुके हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग अपना घर नहीं बचा सके वे हताशा और निराशा में ओछी बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसा करने में वे कई बार तथ्यों से परे जाकर अपनी ही गरिमा खो रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नेता प्रियंका वाड्रा को शायद पता नहीं है कि पिछले साढे़ चार साल में योगी सरकार ने साढ़े चार लाख से ज्यादा सरकारी भर्तियां की और 30 लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार से जोड़ा। सरकार ने 1.44 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा गन्ना किसानों का भुगतान करवाया।

Edited By: Umesh Tiwari