सीतापुर, जेेेेेेएनएन। रामपुर सांसद व सपा नेता आजम खां की विधायक पत्नी डॉ. तजीन फातिमा सोमवार को जिला कारागार से रिहा हो गईं हैं। वह अपने पति व छोटे बेटे के साथ जेल में 298 दिन रहीं। बुजुर्ग विधायक जेल के महिला बैरक में थीं। अभी उनके पति आजम खां व बेटे अब्दुल्ला आजम सीतापुर जेल में ही हैं। जेल प्रशासन ने काफी सुरक्षा व्यवस्था के बीच इन्हें साेमवार शाम 7.25 बजे जेल से रिहा किया है। 70 वर्षीय महिला विधायक की रिहाई पर उनकी बहन तनवीर फातिमा और बड़े बेटे अदीब आजम व बहू सिदरा के साथ दोनों पोत‍ियां भी सीतापुर आईं थीं। हालांकि, इस दौरान परिवारजन ने मीडिया से कोई बात नहीं की। डॉ. तजीन की रिहाई पर गाजियाबाद के एमएलसी आशु मलिक भी जिला कारागार पहुंचे। जेल अधीक्षक डीसी मिश्र ने बताया कि कोर्ट से जमानत का आदेश मिलने के उपरांत प्रक्रिया पूरी डॉ. तजीन को रिहा कर दिया गया है।

सांसद आजम खां, उनकी पत्नी और बेटे अब्दुल्ला आजम 26 फरवरी से जेल में बंद हैं। विधायक के खिलाफ कुल 34 मुकदमे दर्ज हैं। 32 मुकदमों में पहले ही जमानत मंजूर हो गई थी। अब जौहर यूनिवर्सिटी के लिए शत्रु संपत्ति को कब्जाने और धोखाधड़ी कर रामपुर पब्लिक स्कूल के लिए एनओसी लेने के मामले में भी जमानत मिल गई है। उनके पति आजम खां के खिलाफ 85 मामले सक्रिय हैं, जिनमें 73 में चार्जशीट लग चुकी है और 12 की विवेचना चल रही है। उनकी 13 मामलों में जमानत होना बाकी है, जबकि उनके पुत्र अब्दुल्ला आजम खां के खिलाफ 44 मुकदमे दर्ज हैं। उनकी तीन मुकदमों में जमानत होना शेष है। आजम खां और उनके समर्थकों के खिलाफ पिछले साल बड़े पैमाने पर मुकदमे दर्ज हुए थे।

चौथी बार कोविड टेस्ट में निगेटिव

जिला कारागार अस्पताल के डॉ. पीयूष पांडेय ने बताया, सांसद आजम खां व उनकी पत्नी डॉ. तजीन फातिमा व बेटे अब्दुल्ला का चौथा कोविड टेस्ट भी निगेटिव आया है। इन लोगों को चौथा कोविड टेस्ट 13 दिसंबर को हुआ था। इसकी रिपोर्ट 15 दिसंबर को आई थी। इससे पहले इन तीनों के तीन कोविड टेस्ट हुए हैं। सभी में इनकी रिपोर्ट निगेटिव ही रही है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप