अयोध्या, जेएनएन। रामनगरी में प्रभु राम की सबसे बड़ी प्रतिमा लगाने के लिए जमीन खरीदने की स्वीकृति शासन से मिल गई है। किसानों से जमीन खरीदने के लिए राज्यपाल ने क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी आरपी यादव को नामित किया है। मीरापुर द्वावा में लगभग 61 हेक्टेयर जमीन भगवान राम प्रतिमा के लिए खरीदी जानी है।

क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी ने बताया कि अगले सप्ताह से जमीन की खरीद शुरू हो जाएगी। शासन से क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी नामित किए जाने का पत्र जिलाधिकारी अनुज कुमार झा को मिल गया। जिलाधिकारी ने क्षेत्रीय पर्यटक अधिकारी को जमीन खरीदने का पत्र भेज दिया है। तीन सौ से ज्यादा किसानों से जमीन की रजिस्ट्री पर्यटन विभाग के नाम से कराई जानी है।

प्रस्तावित जमीन हाईवे से नयाघाट क्षेत्र में स्थित है। 251 मीटर लंबी भगवान राम की प्रतिमा है। 50 मीटर पेडेस्टेल की ऊंचाई, 178 मीटर लंबी प्रतिमा एवं 23 मीटर मूर्ति की छतरी होगी। भगवान श्रीराम पर आधारित डिजिटल म्यूजियम, इंटरप्रेटेशन सेंटर, लाइब्रेरी, पार्किंग, फूड प्लाजा, लैंडस्केप‍िंंग समेत पर्यटकों के लिए अन्य आकर्षण होंगे। 

अधिग्रहीत परिसर की कमिश्नर ने देखी सुरक्षा

वहीं अधिग्रहीत परिसर के सुरक्षा प्वाइंटों का कमिश्नर मनोज मिश्र एवं आइजी डॉ. संजीव कुमार ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा एवं एसएसपी आशीष तिवारी साथ रहे। सुरक्षा प्वाइंटों का निरीक्षण लगभग एक घंटे चला। कमिश्नर ने सुरक्षा प्रबंधों में किसी प्रकार की ढील न देने का निर्देश सुरक्षा बलों को दिया। विशेषकर सुरक्षा प्वाइंटों को लेकर। सुप्रीम कोर्ट से मंदिर निर्माण के हक में फैसला आ चुका है। उसी के बाद से प्रशासनिक अमला सक्रिय है। 

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप