लखनऊ, जेएनएन । इंडियन बैंक से जमीन के एवज में लिए गए 45 करोड़ रुपये का भुगतान न करने पर एपीआइ अंसल के सुशांत गोल्फ सिटी में स्थित सात हेक्टेयर के पांच भूखंड नीलाम किए जाएंगे। बैंक ने नीलामी का नोटिस जारी कर दिया है।

बैंक ने अपने भुगतान को लेकर कंपनी के निदेशकों को डिफाल्टर घोषित कर दिया है। एपीआइ अंसल के खिलाफ रियल एस्टेट रेग्यूलेटरी अथॉरिटी (रेरा) ने फॉरेंसिक ऑडिट शुरू कराया है। कंपनी पर लगभग दो हजार निवेशकों के बकाया हैं। न तो निवेशकों को अब तक उनके आवास मिल सके हैं और न ही धन वापसी हो रही है।

सुल्तानपुर रोड पर सुशांत गोल्फ सिटी में गांव देवामऊ और निजापुरम मझिगवां में अंसल के ये पांचों भूखंड हैं। इनका क्षेत्रफल लगभग सात हेक्टेयर है। 19 जनवरी को ये भूखंड नीलाम कर दिए जाएंगे। बैंक ने लोन डिफाल्ट करने वालों के नाम सुशील अंसल, अनिल कुमार, प्रणव अंसल, धर्मेंद्र नाथ डावर, प्रेम सिंह राना, ललित भसीन, पृथ्वीराज खन्ना के अलावा अन्य लोग के नाम दर्ज हुए हैं। बैंक के एक अधिकारी ने बताया कि करीब 42 करोड़ रुपये के ऋण बकाया के अलावा लगभग तीन करोड़ रुपये का ब्याज मेसर्स अंसल प्रॉपर्टीज लिमिटेड पर बनता है। इसका भुगतान नहीं किया गया है। इसलिए इन संपत्तियों की ई नीलामी 19 जनवरी को की जाएगी।

एपीआइ अंसल के प्रेसीडेंट अरुण मिश्र ने इस बारे में बताया क‍ि मूल योजना के अनुसार हमने नींव और समतलीकरण का कार्य किया था। जिस पर हमने बड़ी लागत लगाई थी। बाद में, यह परियोजना फ्लाइंग जोन के अंतर्गत आ गई। जिसके कारण निर्माण अटक गया था, अब हम तदनुसार अपनी योजना को संशोधित कर रहे हैं। इंडियन बैंक को पुनर्भुगतान करेंगे। एक बार निर्माण शुरू होने के बाद इंडियन बैंक को भुगतान किया जाएगा।

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप