सीतापुर, जागरण संवाददाता। महोली में मारपीट के मामले में पुलिस कार्रवाई न होने पर पीड़ित परिवार ने शुक्रवार को रोड जाम कर दिया। इससे यातायात बाधित हो गया। हालांकि, मामला बिगड़ता देख पुलिस के कुछ अधिकारियों ने केस दर्ज कर कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर लोगों ने जाम हटाया। आधे घंटे बाद रोड पर यातायात बहाल हो सका, तब लोगों ने राहत की सांस ली। महोली के मास्टर कालोनी पश्चिमी निवासी सर्वेश बंसल का अपने भाई और भाभी से विवाद चल रहा है। मंगलवार को करन पुत्र सर्वेश, जितेंद्र आदि ने मिलकर राजवती व परिवारजन से मारपीट की। राजवती ने कोतवाली में तहरीर दी। पुलिस ने दोनों पक्षों पर शांति भंग में कार्रवाई की।

गुरुवार को आरोपितों ने पुन: राजवती के साथ घर में घुसकर मारपीट की। पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई नहीं की तो राजवती ने परिवार व रिश्तेदारों के साथ मिलकर नगर में पुलिस चौकी के पास मिल गेट के सामने रोड जाम कर दिया। राजवती ने पुलिस से कार्रवाई व आरोपित की गिरफ्तारी की मांग की। जाम में रोडवेज बसें व निजी वाहन फंस गए। दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गई। इससे अफरा तफरी का माहौल बन गया। कोतवाली पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर प्रदर्शन कर रहे लाेगों से वार्ता की और समझाया। आरोपित प र केस दर्ज कर कार्रवाई के आश्वासन पर लोग शांत हुए। इसके बाद राजवती व अन्य लोगों ने मार्ग से जाम हटाया।

आधे घंटे बाद मार्ग खुलने के बाद यातायात बहाल हो सका। तब पुलिस व राहगीरों ने राहत की सांस ली। वहीं, कोतवाली प्रभारी अनूप शुक्ला ने बताया कि पीड़ित महिला की तहरीर पर आरोपित सर्वेश बंसल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। पीड़िता आरोपित की तत्काल गिरफ्तारी की मांग कर रही थी, जो संभव नहीं था। पुलिस के समझाने पर लोग मान गए। जाम से रोड पर कुछ देर यातायात अवश्य प्रभावित रहा। प्रकरण की जांच की जा रही है।

Edited By: Vikas Mishra