लखनऊ, जेएनएन। इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने मंगलवार को अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को एक अवमानना मामले में कड़ी डांट लगायी गई और लिखित माफी मांगने पर ही उन्हें राहत दी। 

दरअसल, कोर्ट ने जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को एक अवमानना मामले में तलब किया था। मंगलवार दोपहर 12:30 बजे कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरू हुई, लेकिन आदेश के बाद भी जिलाधिकारी हाजिर नहीं थे और न ही उनकी ओर से कोई स्पष्टीकरण ही आया। इस पर जस्टिस चंद्रधारी सिंह की बेंच ने कड़ा रूख अपनाते हुए सरकार को  निर्देश दिया कि जिलाधिकारी की साढ़े तीन बजे उपरान्ह उपस्थिति सुनिश्चित कराए। 

लिखित माफी मांगने पर मिली राहत 

मामले में याची पक्ष के अधिवक्ता एसपी सिंह ने बताया कि पुन: साढ़े तीन बजे जिलाधिकारी हाजिर नहीं हुए और उनकी ओर से सरकारी वकील ने 15 मिनट का और समय दिये जाने की मांग की। जिसके बाद जब जिलाधिकारी कोर्ट के समक्ष उपस्थित तो हुए तो कोर्ट ने उनके इस आचरण पर कड़ा एतराज जताया। साथ ही कोर्ट ने उन्हें कुछ देर तक कोर्ट में ही रुकने का निर्देश दिया। हालांकि, बाद में कोर्ट ने जिलाधिकारी के लिखित माफी मांगने पर उन्हें राहत दे दी।

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप