लखनऊ, जागरण संवाददाता। विद्यार्थियों को आजादी के इतिहास से जोड़ने के साथ ही आकाशवाणी उन्हें आरजे बनने का भी मौका दे रहा है। आकाशवाणी से विद्यार्थियों की आवाज में आजादी से जुड़ीं बातें गूंजेंगी। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत युवाओं पर केंद्रित एयरनेक्सट कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की गई है। इसके तहत आकाशवाणी का हर रेडियो स्टेशन स्कूल और कालेज के साथ समन्वय स्थापित कर वहां प्रतियोगिताएं आयोजित करेगा। इन प्रतियोगिताओं में विद्यार्थी अपनी सोचने और बोलने की क्षमता का परिचय देंगे। बेहतर प्रदर्शन करने वाले तीन विद्यार्थियों को चुना जाएगा। इन तीन विद्यार्थियों को आकाशवाणी पर कार्यक्रम की एंकरिंग करने का मौका मिलेगा।

देश की आजादी पर केंद्रित एयरनेक्सट कार्यक्रम 52 एपिसोड का होगा। हर रविवार को शाम सात से रात दस बजे से कार्यक्रम का प्रसारण होगा। आकाशवाणी की कार्यक्रम प्रमुख मीनू खरे ने बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत कई आयोजन हो रहे हैं। प्रतियोगिताओं में भी आजादी से जुड़े विषयों को प्रमुखता दी जा रही है। एयर नेक्सट प्रोग्राम विद्यार्थियों को अपने देश के बारे में करीब से जानने और समझने का मौका देने की एक पहल है। तय विषयों पर विद्यार्थी अपने विचार रखेंगे और उन्हें स्क्रिप्टिंग भी सीखने को मिलेगी। हमने स्कूल और कालेजों के साथ समन्वय स्थापित करना भी शुरू कर दिया है। इसमें स्कूल के माध्यम से ही विद्यार्थी हिस्सा ले सकेंगे। कार्यक्रम की प्रस्तुतकर्ता डा अनामिका श्रीवास्तव हैं।

प्रतियोगिताओं के लिए तय विषयः स्कूल और कालेज में प्रतियोगिताओं के लिए विषय तय किए गए हैं। एयर नेक्सट कार्यक्रम के लिए टैलेंट हंट के लिए तय विषयों में मेरा सपनों का भाारत, नारीत्व की नई परिभाषा, मेक इन इंडिया : स्किल इंडिया, यूथ आइकॉन और रोल मॉडल, भारतीय परंपरा और मूल्य और भविष्य का भारत विषय शामिल हैं। विद्यार्थी इनमें से किसी एक विषय पर अपनी बात रख सकते हैं।

Edited By: Vikas Mishra