लखनऊ, राज्य ब्यूरो। विधानसभा अध्यक्ष और मंत्री रहे आजमगढ़ के दीदारगंज से विधायक सुखदेव राजभर के पिछले दिनों लिखे गए मार्मिक पत्र का सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को जवाब दिया। राजभर को भेजे गए पत्र में अखिलेश ने लिखा कि आपके पुत्र व समर्थकों का समाजवादी पार्टी में स्वागत है। अखिलेश ने राजभर के स्वस्थ, दीर्घायु और सुखी रहने की प्रार्थना भी की है। सुखदेव राजभर ने पिछले दिनों बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ ही सपा प्रमुख अखिलेश यादव को एक भावुक पत्र भेजते हुए लिखा था कि स्वार्थी तत्वों द्वारा बहुजन मूवमेंट को दिशाहीन किए जाने से वह बहुत आहत हैं।

अखिलेश ने लिखा... 'आपके पत्र में व्यक्त की गई सामाजिक चि‍ंता और पीड़ा से मैं स्वयं को संबद्ध करता हूं। आपको सड़क से लेकर सदन तक का लंबा राजनीतिक अनुभव है। आपने सदैव शालीनता से दलित, पीडि़त, वंचित और पिछड़ों के हक की आवाज बुलंद की है। आपके द्वारा शोषित, वंचित, दलित, पिछड़े समाज को हक दिलाने के लिए समाजवादी नेतृत्व पर जो विश्वास व्यक्त किया गया है, उससे मैं अभिभूत हूं। समाजवादी इस सामाजिक न्याय और लोकतंत्र की राजनीतिक और सामाजिक लड़ाई को अपने शिखर पर ले जाने का सतत प्रयास करती रहेगी। समाजवादी पार्टी में आपके पुत्र और समर्थकों का स्वागत है।

दरअसल, सुखदेव राजभर ने पिछले दिनों बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ ही सपा प्रमुख अखिलेश यादव को एक भावुक पत्र भेजते हुए लिखा था कि स्वार्थी तत्वों द्वारा बहुजन मूवमेंट को दिशाहीन किए जाने से वह बहुत आहत हैं। बसपा से राजभर समाज के मिशनरी लोगों को बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है। स्वास्थ्य कारणों से सक्रिय न होने का जिक्र करते हुए सुखदेव ने अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश का भविष्य बताते हुए दलितों, पिछड़ों व राजभर समाज की सेवा के लिए खुद के बेटे कमलाकांत को उनके हवाले करने की घोषणा की थी।

Edited By: Anurag Gupta