लखनऊ, जेएनएन। Akhilesh Yadav Fires On OmPrakash Rajbhar : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने सहयोगी दल के मुखिया ओमप्रकाश राजभर को मंगलवार को आईना दिखाया है। समाजवादी पार्टी के सदस्यता अभियान में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने स्पष्ट शब्दों में कह दिया कि उनको फिलहाल किसी की भी सलाह की जरूरत नहीं है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर चुनाव लडऩे वाली पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर बीते दिनों लगातार अखिलेश यादव को नसीहत दे रहे थे। अखिलेश यादव को ट्विटर नेता के साथ ही एसी कमरे में बैठकर पार्टी चलाने वाले नेता तक कहने वाले ओम प्रकाश राजभर को अखिलेश यादव ने आज करारा जवाब दिया है। उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे ओमप्रकाश राजभर लम्बे समय से अखिलेश यादव को नसीहतें दे रहे थे। इसी कारण आज अखिलेश यादव ने उनका हिसाब बराबर किया है।

समाजवादी पार्टी के कार्यालय में अखिलेश यादव ने कहा कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी काफी समय से हमको नसीहतें दे रहे हैं। हमको तो सिर्फ इतना ही कहना है कि हमें किसी के सलाह की जरूरत नहीं है। ओम प्रकाश राजभर तथा महान दल के मुखिया केशव देव मौर्य की नाराजगी को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि अगर कोई नाराज है तो हम क्या करें। आजकल तो राजनीति पर्दे के पीछे से आपरेट हो रही है। हम अपनी पार्टी के विस्तार के बारे में काम कर रहे हैं, बाकी लोग अपने दल का काम देखें। अखिलेश यादव इतने पर भी नहीं रुके और कहा कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओपी राजभर कहां से आपरेट हो रहे हैं, उन्हें कुछ भी पता नहीं है। उन्होंने कहा कि कि कभी-कभी जो दिखता है वो होता नहीं है। अब सहयोगी कम से कम हमको तो सलाह ना ही दें।

ओमप्रकाश राजभर ने उपचुनाव में हार के बाद अखिलेश यादव पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि एसी कमरों से बैठकर चुनाव नहीं जीते जाते। उन्होंने अखिलेश यादव को जमीन पर उतरने की सलाह दी थी। राजभर ने कहा था कि अखिलेश यादव अपने पिता और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की वजह से मुख्यमंत्री बने थे। इन बयानों के बाद अखिलेश यादव की आज यह पहली प्रतिक्रिया थी।

Edited By: Dharmendra Pandey