लखनऊ, जेएनएन। ईवीएम से मतदान का लगातार विरोध करने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने निर्वाचन आयोग पर निशाना साधा। समाजवादी पार्टी में रविवार को पूर्व सांसद रमाकांत यादव सहित दो दर्जन से अधिक बसपा व कांग्रेस के नेताओं के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद अखिलेश यादव ने मीडिया को संबोधित किया।

सपा प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव आयोग जरा भी निष्पक्ष नहीं है। समाजवादी पार्टी की तमाम शिकायत के बाद भी ध्यान नहीं दिया गया। रामपुर में डीएम तथा एसपी को नहीं बदला गया है। यह लोग विधानसभा उप चुनाव में धांधली करा सकते हैं। भाजपा सरकार तो ईवीएम का लाभ लेने के साथ जिला व पुलिस प्रशासन का भी साथ लेने में माहिर हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र तथा राज्य सरकार के आम जनता बेहद त्रस्त है। हमको इलाहाबाद के डीजे असोशिएसन का पत्र मिला है कि कारोबार से जुड़े एक करोड़ लोगों का रोजगार छीन लिया गया है। देश के सारे कारोबार पर भाजपा सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। राष्ट्रपिता गांधी ने अहिंसा और सत्य का सिद्धांत दिया, लेकिन कमाल की भाजपा है कि वह उनके रास्ते पर चलना ही नहीं चाहती। विधानसभा में सरकार झूठ बोल रही है। प्रदेश में मेट्रो से लेकर पूर्वांचल एक्सप्रेस तक हमारे प्रोजेक्ट है। अपने लोगों को एडजस्ट करने के लिये पूर्वांचल एक्सप्रेस का टेंडर निरस्त किया गया। हमने को इसका टेंडर कराने के बाद काम भी फाइनल कर दिया था।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को पता है कि मेट्रो रेल, एक्सप्रेसवे, मेडिकल कालेज,एम्स अस्पताल,पूर्वांचल एक्सप्रेसवे ,बस अड्डों का निर्माण,बिजली व्यवस्था स्वास्थ्य निशुल्क दवा जांच, शिछा पर सरकार ने काम किया।प्रदेश में खुशहाली का माहौल था आज लोगो पर बिना कारण मुकदमे किए जा रहे है जांच के नाम पर परेशान किया का रहा है।लोगो को भय के वातावरण में रहना पड़ रहा है उन्होंने सभी आने वाले कार्यकर्ताओं से एक जुटकर पार्टी को मजबूत करने सरकार को उखाड़ फेकने का आह्वान किया।

अखिलेश यादव ने कहा कि सपा में आने वाले सभी लोगों का स्वागत है। इनके आगमन से समाजवादी परिवार बढ़ेगा। हमारी कोशिश होगी कि सपा से अधिक से अधिक साथियों को जोड़ा जाय जिससे चुनौती का मिल कर सामना किया जा सके। उन्होंने कहा कि पूर्व सांसद रमाकांत यादव के साथ कई बार काम किया है। इनके साथ बीच में दूरी बनी लेकिन अब कोई दूरी नहीं रहेगी। भाजपा अपनी ताकत से सरकार नहीं बना सकती। दूसरी पार्टी के हर चहरे जो उन्हें फायदा दिला सकते हैं उन्हें अपनी पार्टी में शामिल करा लिया चाहे उसके लिये कुछ भी करना पड़े।

सीएम को कैसे मालूम कोर्ट में क्या होने वाला

अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा भगवान राम से जुड़ी बड़ी खुशखबरी जल्दी मिलने के बयान पर सवाल उठाया है, यह कहते हुए कि मुख्यमंत्री को कैसे मालूम कि न्यायालय में क्या होने वाला है? मुख्यमंत्री ने शनिवार को गोरखपुर में एक कथा कार्यक्रम में कहा था कि बहुत जल्द ही भगवान राम से जुड़ी बड़ी खुशखबरी सुनने को मिलेगी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा तो संविधान और देश के कानून पर कम भरोसा करती है। यही लोग हैं जो हर जगह स्वदेशी अपनाना चाहते हैं, लेकिन अब निजीकरण कर रहे हैं। इनके हर कदम से सबसे अधिक नुकसान पिछड़ा-दलित का होगा, उनकी नौकरी और सम्मान छीनने की कोशिश है। 

टिकट पाने की लालच में न आएं तो बेहतर

सपा की मुंबई इकाई के प्रमुख अबु आसिम आजमी ने दूसरे दलों से आने वालों से कहा कि समाजवादी पार्टी के टिकट पाने की लालच में न आएं तो बेहतर है। अबू आसिम ने कहा कि भाजपा के नेताओं में आत्मा नाम की कोई चीज नहीं है। इन लोगों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई है। अब तो गांधी जी की आत्मा रो रही होगी। उन्होंने कहा कि कश्मीर में लोग घरों मे कैद हैं। दूसरे पार्टी के नेता कहते हैं कि एक बार अखिलेश के साथ फोटो खिंचवा दें। यह क्रेज है हमारे नेता का। देश में जो भाजपा को रिमोट कंट्रोल से चला रहा है वही कांग्रेस को भी चला रहे हैं। अखिलेश को कश्मीर से कन्याकुमारी तक दौरा करना चाहिए। समाजवादी परिवार में अब गिले शिकवे भूलने का वक्त है।

रमाकांत यादव ने कहा समाजवादी पार्टी तो परिवार है। घर वापस आकर बहुत खुश हूं। अब समाज का युवा अखिलेश यादव की ओर देख रहा है । अब तो सपा का सिपाही हूं जहा खड़े होने केस आदेश मिलेगा तन्यमयता से काम करूंगा। अपने घर परिवार में आने के बाद खुश हूं। देश के जो हालात और राजनीतिक समस्या है, हर कोई आशा भरी निगाह से अखिलेश की ओर देख रही हैं। साम्प्रदायिक और फिरकापरस्त ताकतों का फन अखिलेश ही कुचल सकते हैं। मैं एक सिपाही के रूप में तथा कार्यकर्ता के रूप में हर काम करूंगा।

मिर्जापुर से समाजवादी पार्टी से सांसद रहीं फूलन देवी की बहन ने भी आज सपा का हाथ थामा। फूलन देवी की बहन रुक्मिणी देवी निषाद ने कहा कि हम सपा के मजबूत सिपाही हैं। अब ताली पीटने से नहीं एक-एक वोट बटोरने से जीत मिलेगी।

आलम बदी ने कहा कि मेरी ख्वाहिश थी कि रमाकांत यादव सपा में आएं। अखिलेश जी को बधाई कि आप उन्हें पूरा सम्मान से लाए। रमाकांत यादव को भी बधाई इस उम्मीद के साथ कि अब मरते दम तक अखिलेश का हाथ नहीं छोड़ेंगे।

बसपा नेता अशोक गौतम ने कहा कि बसपा में जो सिस्टम विकसित हुआ है उससे दुखी होकर सपा में आ गया हूं। अखिलेश जी ही दलित तथा पिछड़ों के इकलौते रक्षक हैं।

कुशीनगर, उन्नाव, गाजीपुर के बसपा और कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं ने भी सपा का दामन थामा। अम्बेडकर नगर के बसपा कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। इसके साथ बसपा के पूर्व एमएलसी अतहर खां भी सपा में वापस लौटे। इस अवसर पर बलराम यादव, दुर्गा प्रसाद यादव सहित आजमगढ़ के सभी सपा विधायक प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम, वरिष्ठ नेता अहमद हसन सहित अन्य नेता गण उपस्थिति रहे।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप