लखनऊ/गोंडा(जेएनएन)। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि सरकार को बाढ़ पीड़ितों की चिंता नहीं है। प्रदेश के कई जिलों में हालात विकराल हैं, लेकिन राहत के कदम नहीं उठाए गए हैं। सरकार को सिर्फ समाजवादी पार्टी की ही चिंता सताती रहती है। अखिलेश यादव शनिवार को पूर्व मंत्री योगेश प्रताप सिंह के गोंडा जिले के गाव भभुआ पहुंचे और उनके भाई और बहनोई की सड़क दुर्घटना में मृत्यु पर संवेदना व्यक्त की। रास्ते में उन्होंने जगह-जगह बाढ़ पीड़ितों से भी मुलाकात की। उन्होंने समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को निर्देशित किया कि बिना सरकारी व्यवस्था का इंतजार किए वे बाढ़ पीड़ितों की मदद में जुटें। अखिलेश ने कहा कि घाघरा नदी के प्रकोप से क्षेत्र में फसलें बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। बाढ़ में फंसे लोगों से सरकार का कुछ लेना देना नहीं है। सड़कें खराब हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ऊर्जा क्षेत्र में अब सौर ऊर्जा को ज्यादा बढ़ावा दिया जाना उचित होगा। अगली समाजवादी सरकार बनने पर यह मुफ्त दी जाएगी। अखिलेश ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार ने सवर्ण-दलित में झगड़ा लगाकर जातीय संघर्ष के हालात पैदा कर दिए हैं। भाजपा लोगों को चैन से नहीं रहने देगी। भाजपा का यही एजेंडा है कि साप्रदायिक तनाव बना रहे और समाज में अशाति कायम रहनी चाहिए। नदी की धारा मोड़ने के बयान पर कसा तंज:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा घाघरा नदी की धारा मोड़ने संबंधी बयान पर तंज कसा। बोले कि उन्हें (योगी को) नहीं पता कि धारा मोड़ने से ही नदी तबाही मचाती है।

सूबे में सड़कें नहीं, सिर्फ गढ्डे :

गोंडा में पूर्व मंत्री योगेश प्रताप सिंह के आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र और प्रदेश दोनों जगह भाजपा की सरकार है, लेकिन प्रदेश में इन दिनों सड़कें नहीं, उन पर केवल गढ्डे ही दिखाई दे रहे हैं। शिक्षा व आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि अमेरिका व चीन जैसे देश क्यों तरक्की कर रहे हैं। वहा पढ़ाई लिखाई व संसाधन बेहतर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सिखाया राजधर्म:

मुख्यमंत्री द्वारा अपनी तुलना औरंगजेब से किए जाने पर अखिलेश ने शनिवार को उन्हें राजधर्म की सीख दी। उन्होंने ट्वीट किया-'मुख्यमंत्री के लिए हर पिता 'पितातुल्य' होना चाहिए, उन्नाव की बलात्कार-पीड़िता का वो बेबस पिता भी जिसको उनकी पुलिस ने मार-मार कर मार डाला। इसी प्रकार हर पुत्री 'पुत्रीतुल्य' होनी चाहिए, वो पुत्री भी जिसे काला झडा दिखाने पर जेल की काल कोठरी में डाला गया। यही सच्चा राजधर्म है।

Posted By: Jagran