लखनऊ, जेएनएन। नए वर्ष में प्रोन्नति का तोहफा पाकर लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) के नए उपाध्यक्ष शिवाकांत द्विवेदी के बनते ही अवैध निमार्णो पर ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई हैं। शनिवार को अमीनाबाद में ज्वैलर्स का अवैध निर्माण सील किया गया। यह एलडीए की तीन दिन के अंदर छठी कार्रवाई है। अजीत ज्वैलर्स एंड बैंकर्स द्वारा पुराने निर्माण को तोड़कर बिना नक्शा पास करवाए ही नए निर्माण कराए जा रहे थे। कई बार नोटिस दिए जाने के बावजूद ये निर्माण होता रहा, जिसके बाद प्राधिकरण ने कार्रवाई की गई। बता दें, तीन जनवरी को लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) के नए उपाध्यक्ष शिवाकांत द्विवेदी ने संभाला था पदभार। 

एलडीए की संयुक्त सचिव ऋतु सुहास ने बताया कि पुरानी सब्जी मंडी के पास अजीत ज्वैलर्स एंड बैंकर्स का ये निर्माण किया जा रहा था। यहां भूतल पर आरसीसी पिलर खड़े किए जा चुके थे। कई बार काम को रोकने का नोटिस दिया गया, मगर बिल्डर पर कोई असर नहीं पड़ा, इसलिए शनिवार को प्रवर्तन टीम ने ये निर्माण सील कर दिया। 

इससे पहले दो अवैध निमार्ण सील 

बता दें, शु‍क्रवार को एलडीए ने बिजनौर रोड के पास रॉयल कॉलोनी में किए जा रहे दो अवैध निर्माण सील कराए थे। दोनों ही निर्माण करीब 1500-1500 वर्ग फीट में किए जा रहे थे, जिनको कई बार नोटिस दिया गया था, इसके बावजूद निर्माण जारी रहा। एलडीए की संयुक्त सचिव ऋतु सुहास के आदेश पर ये निर्माण सील हुए। उपेंद्र बहादुर सिंह का रॉयल सिटी मेन बिजनौर रोड पर करन प्लाइ एंड हार्डवेयर के पीछे स्थित निर्माण सील किया गया। इस निर्माण का नक्शा पास नहीं करवाया गया था। इसी कॉलोनी में अमरनाथ राय का भी इसी क्षेत्रफल का अवैध निर्माण सील किया गया। 

तीन अवैध निर्माण सील

बीते गुरुवार को एलडीए ने फैजाबाद रोड और गोमती नगर में तीन बड़े अवैध निर्माण सील कर दिए। प्राधिकरण के अवर अभियंता नरेंद्र सिंह के मुताबिक, अशोक कुमार और नमिता कुमारी के भूखंड संख्या-3/66 बी, विपुल खंड, गोमती नगर में व्यावसायिक निर्माण, गौतम रावत व अन्य के जानकी नगर, नन्दपुर, अनीस व अन्य के न्यू गुलिस्ता कालोनी, चिनहट, फैजाबाद रोड पर किए गए अवैध निर्माण को पुलिस अभिरक्षा में सौंप दिया गया। सभी निर्माण आवासीय परिसरों में बिना मानचित्र पास कराए व्यवसायिक लैंड प्रयोग कर रहे थे।

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस