- बाबा आशु गुरुदेव व उसके बेटे ने कई साल किया यौन शोषण

- हौजखास थाने में गाजियाबाद की महिला ने दर्ज कराया मामला

जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : गाजियाबाद की रहने वाली एक महिला और उनकी नाबालिग बेटी का कई वर्षो से यौन शोषण करने का आरोप बाबा आशुदेव गुरुदेव पर लगा है। दक्षिणी दिल्ली के हौज खास थाने में महिला ने बाबा के साथ ही उसके बेटे व दोस्त पर भी आरोप लगाए हैं। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। दक्षिण जिला डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। गौरतलब है कि दाती महाराज व वीरेंद्र देव दीक्षित पर भी यौन शोषण के आरोप लगे हैं।

दक्षिण जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, बाबा आशु का सेक्टर-सात रोहिणी में आश्रम है। दूसरा आश्रम एक्स ब्लॉक हौजखास में है। पीड़ित महिला (40) गाजियाबाद के इंदिरापुरम की रहने वाली है। महिला ने हौजखास थाना पुलिस को बताया है कि वह बाबा आशु को वर्ष 2008 से जानती है। उसकी बेटी उस समय छह वर्ष की थी, जो पोलियो से पीड़ित है। आरोपित बाबा ने महिला से इलाज के लिए बेटी को रोहिणी स्थित आश्रम में लाने को कहा। आरोप है कि बाबा बच्ची को निर्वस्त्र कर उसकी मालिश करता था। यह सिलसिला वर्ष 2013 तक चलता रहा। पीड़िता वर्ष 2013 में दिवाली पर बाबा के रोहिणी स्थित आश्रम में गई थी, जहां आश्रम के मैनेजर ने नशीला पेय पदार्थ पिलाकर बाबा व उसके साथियों के साथ मिलकर उससे सामूहिक दुष्कर्म किया। होश आने पर महिला ने पुलिस में शिकायत करने की बात कही तो बाबा ने उसे परिवार सहित जान से मारने की धमकी दी। डर से पीड़िता ने उस समय पुलिस में शिकायत नहीं की। महिला का आरोप है कि 2016 में बाबा के बेटे समर और उसके दोस्त सौरभ ने अप्राकृतिक यौनाचार किया। 2017 में बाबा के बेटे ने महिला की बेटी को लाने को कहा। इसकी उसने बाबा से शिकायत की थी, लेकिन बाबा ने कोई कदम नहीं उठाया। 2017 में होली के दिन दोपहर रोहिणी स्थित आश्रम में पीड़िता को बुलाया गया और मारपीट की गई। 2017 में बाबा ने उसकी बेटी को हौजखास स्थित आश्रम में बुलाकर उसके साथ अश्लील हरकत की। विरोध किया तो महिला को आश्रम से बाहर निकाल दिया गया। महिला की शिकायत पर हौजखास थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

Posted By: Jagran