लखनऊ (जेएनएन)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 जुलाई को 55 हजार करोड़ रुपये की जिन 64 परियोजनाओं का सूबे की राजधानी में भूमि पूजन करेंगे, उनके मूर्त रूप लेने पर दो लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित होने वाले भूमि पूजन समारोह (ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी) को योगी सरकार मेगा शो बनाने की तैयारी में जुटी है। यूपी इन्वेस्टर्स समिट के बाद आयोजित होने वाले इस पहले भूमि पूजन कार्यक्रम में कई दिग्गज उद्योगपति और केंद्रीय मंत्री शामिल होकर समारोह की रंगत बढ़ाएंगे। 

जुटेंगे दिग्गज उद्योगपति

औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने शुक्रवार को पिकप भवन में अधिकारियों के साथ भूमि पूजन समारोह की तैयारियों की समीक्षा की। बैठक के बाद उन्होंने बताया कि समारोह में देश के नामचीन उद्योगपतियों को भी आमंत्रित किया है। इनमें रिलायंस गु्रप के चेयरमैन मुकेश अंबानी, इन्फोसिस के एक्जेक्यूटिव चेयर नंदन नीलकेनी, आदित्य बिड़ला गु्रप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला, एस्सेल गु्रप के चेयरमैन सुभाष चंद्रा, अडानी गु्रप के संस्थापक व चेयरमैन गौतम अडानी, टाटा संस के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन तथा भारती इंटरप्राइजेज के वाइस चेयरमैन और सीआइआइ के चेयरमैन राकेश भारती मित्तल समारोह में चार चांद लगाएंगे। कार्यक्रम में देश और प्रदेश के लगभग 1500 से अधिक लोग शामिल होंगे।

केंद्रीय मंत्री करेंगे शिरकत

भूमि पूजन कार्यक्रम को प्रधानमंत्री के अलावा केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना भी संबोधित करेंगे। 

तत्काल दें परियोजनाओं को क्लियरेंस

बैठक में महाना ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन औद्योगिक विकास परियोजनाओं का शिलान्यास प्रस्तावित है, उनके क्लियरेंस आदि तत्काल जारी कर दिये जाएं। यह भी निर्देश दिए कि अधिकारी संबंधित उद्योगपतियों से व्यक्तिगत संपर्क स्थापित करेें और यदि उनकी कोई समस्या या कठिनाई है, तो उसका तत्काल निस्तारण सुनिश्चित करें। महाना ने बताया कि वह खुद लगातार उद्यमियों के संपर्क में हैं और उनसे फोन पर बात करके पूछ रहे हैं कि उन्हें उद्यम स्थापित करने में कोई दिक्कत तो नहीं है। 

नोडल अधिकारियों को सौंपें जिम्मेदारियां

महाना ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि शिलान्यास की जाने वाली परियोजनाओं के लिए नोडल अधिकारियों को आवश्यक जिम्मेदारियां सौंप दी जाएं जिससे कि कार्यक्रम बेहतर ढंग से संपन्न हो सके। कार्यक्रम को सुचारु रूप से संपन्न कराने के लिए पुलिस, एलआइयू, होमगार्ड, ट्रैफिक पुलिस, फायरमैन, संपर्क अधिकारी, एस्कॉर्ट ऑफीसर, मेडिकल स्टाफ, खाद्य निरीक्षक, आइटी ऑफीसर तथा ड्यूटी अधिकारियों को पूरी तरह उनकी जिम्मेदारियों के बारे में बता दिया जाए ताकि वे अपने कर्तव्यों का निर्वहन बेहतर ढंग से कर सकेंगे। उन्होंने अतिथियों के ठहरने के लिए संबंधित अधिकारियों को होटल की बुकिंग करने के निर्देश भी दिए। प्रमुख सचिव, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास राजेश कुमार सिंह ने प्रधानमंत्री के आगमन तथा शिलान्यास संबंधी तैयारियों के बारे में पे्रजेंटेशन किया। कार्यक्रम में सीआइआइ, फिक्की और इनकम्पास इवेंट पार्टनर होंगे।

 

By Nawal Mishra