रायबरेली, संवादसूत्र। राना नगर में एक होटल के गोदाम में एसडीएम ने छापा मारकर 52 कामर्शियल सिलिंडर जब्त किए हैं। इन सिलिंडरों का लाइसेंस होटल मालिक नहीं दिखा सके। एसडीएम ने कार्रवाई के लिए जिला पूर्ति विभाग के अफसरों को निर्देशित किया है। एसडीएम अंशिका दीक्षित रविवार की दोपहर करीब 2.30 बजे गुरुबक्शगंज के सहजौरा से जमीन की नापजोख कराकर वापस शहर लौट रही थी। तभी उन्हें इंदिरा नगर चौकी इंचार्ज निखिलेश कुमार के जरिए सूचना मिली कि पुलिस लाइंस चौराहे के निकट एक होटल में भारी मात्रा में कामर्शियल सिलिंडर स्टोर किए गए हैं।

एसडीएम ने होटल के गोदाम में छापा मारा तो वहां से 29 रिफिल और 23 खाली सिलिंडर बरामद किए गए। जिला पूर्ति विभाग के जिम्मेदारों को भी मौके पर बुला लिया गया। होटल मालिक राम अवध अवस्थी ने बताया कि उन्हें इस नियम की जानकारी नहीं है कि एक साथ कितने सिलिंडर रखे जाने हैं। सिलिंडर की रिफिलिंग जहां से होती है, वो एक साथ होटल में सिलिंडर भेज देते हैं। रविवार को भी एक साथ 29 सिलिंडर भरकर आए थे और उसके कुछ देर बाद ही एसडीएम आ गईं। एसडीएम अंशिका दीक्षित ने बताया कि एक ही स्थान पर बिना किसी सुरक्षा व्यवस्था के इतने सिलिंडर रखना उचित नहीं है। होटल मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जिला पूर्ति विभाग के अधिकारियों को इस बाबत निर्देश दिए गए हैं। 

एक स्थान पर 100 किग्रा से ज्यादा नहींः जिला पूर्ति विभाग के एआरओ सुरेश कुमार ने बताया कि एक स्थान पर 100 केजी वजन से ज्यादा के सिलिंडर नहीं रखे जा सकते। ज्यादा सिलिंडर रखने हैं तो इसके लिए अग्निशमन विभाग से परमिशन लेनी होती है। होटल मालिक एक भी सिलिंडर का लाइसेंस नहीं दिखा सके। एक गैस एजेंसी को सारे सिलिंडर सिपुर्द कर दिए गए हैं। इस प्रकरण में केस दर्ज कराया जाएगा।

Edited By: Vikas Mishra