रायबरेली, जेएनएन। CoronaVirus Raebareli News Update : कृपालु इंस्टीट््यूट मुंशीगंज में क्वारंटाइन किए गए 33 लोगों की कोरोना रिपोर्ट मंगलवार को पॉजिटिव आई है। इनमें वे 17 जमाती भी शामिल हैं जो सहारनपुर से आए थे। इन सभी बीमारों को बछरावां के रैन में बने विशेष कोविड-19 अस्पताल में भेजा गया है। अब तक जिले में कुल 35 लोग कोरोना की जद में आ चुके हैं।

19 अप्रैल को जनपद के विभिन्न क्वारंटाइन केंद्रों में रखे गए 71 लोगों के सैंपल जांच के लिए एसजीपीजीआइ लखनऊ भेजे गए थे। मंगलवार को रिपोर्ट आने पर एक ही इंस्टीट्यूट में क्वारंटाइन 33 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। जिसके बाद प्रशासन व स्वास्थ्य महकमें के अधिकारियों में उन्हें सलोन में बने 100 बेड के अस्पताल में शिफ्ट कराने पर हामी हुई। लेकिन देर शाम सभी मरीजों को बछरावां के रैन में बने जेपीएन बालिका आवासीय विद्यालय में कोविड अस्पताल में लाया गया। यहीं पर चिकित्सकों की विशेष टीम उनका इलाज करेगी।

इनकी आई रिपोर्ट

कृपालु इंस्टीट््यूट से कुल 68 लोग क्वारंटाइन थे, जिसमें से 24 निगेटिव मिले। जबकि 11 सैंपल जांच के पहले ही खराब हो गए थे। इनमें सहारनपुर के छह, बछरावां के तीन, महराजगंज के दो और रायबरेली का एक केस शामिल है। 33 पॉजिटिव केस भी इसी सेंटर के हैं, इस कारण इन 11 खराब सैंपल व शेष 24 लोगों की भी फिर से सैंपङ्क्षलग हो रही है। वहीं, रायबरेली के पांच, हॉट स्पाट खाली सहाट मुहल्ला के तीन, बछरावां के पांच, रोहनिया के दो और ऊंचाहार के एक व्यक्ति में कोरोना वायरस मिला है।

नहीं दिखे कोरोना के लक्षण, दोबारा मांगी गई जांच रिपोर्ट

जिला अस्पताल केे वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. बीरबल ने बताया क‍ि जिन 33 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनकी दोबारा सैंपलिंग कराई गई है। उन मरीजों में फिलहाल कोरोना के लक्षण नहीं दिख रहे हैं। इसीलिए उनके पुन: जांच रिपोर्ट मांगी गई है।  

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस