लखनऊ, जेएनएन। भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा के साथ फीरोजाबाद व मैनपुरी में बुखार के 21 लोगों की मौत पर प्रदेश सरकार बेहद गंभीर हो गई है। इस प्रकरण की जानकारी मिलने के बाद ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने मथुरा व फीरोजाबाद में टीम भेजने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह मथुरा व फीरोजाबाद में तत्काल एक-एक टीम भेजें और बुखार से हुई मौत के मामले का पूरा पता लगाएं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में डेंगू व मलेरिया से बचाव के पर्याप्त उपाय करने के साथ ही सभी जगह पर साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन का काम बेहतर ढंग से करने का निर्देश दिया है।

मथुरा जिले के फरह विकासखंड के कोंह गांव के साथ सुहागनगरी फीरोजाबाद के नगरीय क्षेत्र में बुखार के कारण कुछ लोगों की मौत हुई है। यहां बुखार से कई लोग अब भी पीडि़त हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री ने यहां पर सख्ती के साथ बचाव के उपाय करने के निर्देश दिए हैं। जिससे कि बुखार से और किसी मरीज की मौत न हो।

ताजनगरी से सटे तीन जिलों में बुखार ने कोहराम मचा दिया है। मथुरा के साथ फीरोजाबाद व मैनपुरी जिले में पखवाड़े भर में 21 लोगों की मौत हो गई है। मथुरा के फरह विकास खंड के गांव कोंह में पिछले दो सप्ताह में दो बुजुर्गों व पांच बच्चों की मौत हो चुकी है। तीन दर्जन से अधिक लोग बुखार से पीडि़त हैं। मंगलवार को आगरा और मथुरा की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने घर-घर मरीजों का हाल जाना। सीएमओ डा. रचना गुप्ता ने बताया कि डेंगू की आशंका व्यक्त की जा रही है। अभी रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

फीरोजाबाद में पिछले 10 दिन में नौ मौतें हो चुकी हैं। शहर के एलान नगर में दो किशोरियों और एक बच्चे की मौत हुई है। नारखी क्षेत्र के नगला अमान में दो, प्रेमपुरा रैपुरा में 14 वर्षीय किशोरी, मक्खनपुर के जलालपुर मरघटी में दो मौतें हो चुकी हैं। कल रात जैन नगर में 11 वर्षीय बालिका की मौत हुई थी।

मैनपुरी शहर के उद्दैतपुर अभई में बुखार का प्रकोप है। अब तक पांच महिलाओं की मौत हो चुकी है, जबकि एक दर्जन से अधिक लोग अब भी बुखार की चपेट में हैं। सीएमओ डा. पीपी सिंह का कहना है कि हमने सभी जांचें कराई हैं, रिपोर्ट सामान्य रही है।  

Edited By: Dharmendra Pandey