लखनऊ, जेएनएन। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री व रिपब्लिकल पार्टी आफ इंडिया (आरपीआइ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामदास आठवले ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों को अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण में जातियों को शामिल करने का अधिकार देने जा रही है। इसके लिए केंद्र सरकार जल्द ही एक संशोधन बिल लाएगी। इसके बाद राज्यों को ओबीसी में जातियों को शामिल करने का अधिकार मिल जाएगा।

रामदास आठवले ने कहा कि मराठा आरक्षण को खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह कहा था कि 102वें संविधान संशोधन के बाद राज्यों को सामाजिक व आर्थिक आधार पर पिछड़ी जातियों की अलग से कोई सूची बनाने का अधिकार नहीं है। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार अब संसद में एक संशोधन बिल लाने जा रही है। इसके बाद राज्यों को ओबीसी में जातियों को शामिल करने का अधिकार मिल जाएगा।

केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि आरपीआइ 26 सितंबर से बहुजन कल्याण यात्रा शुरू करने जा रही है। गाजियाबाद से शुरू होकर यह यात्रा प्रदेश के विभिन्न जनपदों से होते हुए 18 दिसंबर को लखनऊ में खत्म होगी। लखनऊ में समापन दिवस पर बहुजन कल्याण महारैली होगी, जिसमें एक लाख लोग शामिल होंगे। समापन के मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे।

रामदास आठवले ने कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ेगी। इसके लिए भाजपा से सीटों की भी मांग की जा रही है। इसी सिलसिले में उनकी शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी मुलाकात हुई। आठवले ने उनसे भी प्रदेश में कुछ सीटें देने की मांग की है। उन्होंने बताया कि ऐसी सीटों की मांग हुई है, जहां दलित व मुस्लिम आबादी अधिक है। उन्होंने कहा कि हमने 2017 के विधानसभा चुनाव में भी भाजपा से सीटें मांगी थीं, लेकिन उस समय हमारी पार्टी की इतनी ताकत नहीं थी कि हमें यहां सीटें मिल पातीं। अब हम यूपी में संगठन का विस्तार कर रहे हैं। बहुजन कल्याण यात्रा निकाल रहे हैं। यदि हमारी ताकत दिखाई देगी तो हमें यूपी में सीटें मिल जाएंगी।

छात्रवृत्ति व अन्य योजना में घपला करने वाले जाएंगे जेल : केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा कि छात्रवृत्ति व अन्य योजना में घपला करने वाले जेल जाएंगे। राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत लखनऊ, कानपुर सहित कई जिलों में हुए घपलों पर पूछे गए प्रश्न के जवाब में आठवले ने कहा कि इस मामले की जांच हो रही है। जिन्होंने गड़बड़ी की है उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Dharmendra Pandey