लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। Lockdown Guideline for Eid 2021: उत्तर प्रदेश में कोरोना की जंग में लगातार डटी पुलिस के सामने चुनौतियां अभी कम नहीं हुई हैं। आने वाले दिनों में ईद, बड़ा मंगल व अन्य प्रमुख मौकों पर पुलिस के सामने कोविड-19 की गाइडलाइन का अनुपालन कराने की चुनौती भी होगी। इसे लेकर पुलिस ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार का कहना है कि सभी धर्मगुरुओं से वार्ता कर कोविड-19 की गाइडलाइन का अनुपालन सुनिश्चित कराने का प्रयास किया जा रहा है। धर्मगुरुओं का सहयोग भी पुलिस को मिल रहा है।

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि सभी प्रमुख स्थानों पर वीडियोग्राफी करायेगी और ड्रोन कैमरों के जरिए भी नियमों की अनदेखी करने वालों पर नजर रखी जाएगी। एडीजी का कहना है कि शारीरिक दूरी का अनुपालन न करने व नियमों को तोड़ने वालों के विरुद्ध कार्रवाई होगी। प्रदेश में 51 हजार से अधिक कंटेनमेंट जोन में नियमों का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने सूबे में लागू आंशिक कर्फ्यू की मियाद बढ़ा दी है। 17 मई की सुबह सात बजे तक आंशिक कर्फ्यू लागू रहने का आदेश जारी हो चुका है। ऐसे में पुलिस के सामने नियमों का अनुपालन कराने की चुनौती भी है। खासकर कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए पुलिस को हर स्तर पर पूरी तत्परता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। प्रदेश में 51 हजार से अधिक कंटेनमेंट जोन में नियमों का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है। इन कंटेनमेंट जोन में 37 हजार से अधिक पुलिसकर्मी मुस्तैद किए गए हैं। मास्क न लगाने वालों के विरुद्ध भी पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है।

उत्तर प्रदेश भी कोरोना के संकट से जूझ रहा है, लिहाजा इसका असर अब ईद पर पड़ता दिख रहा है। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदर मौलाना राबे हसनी नदवी की ओर से जारी गाइडलाइन में कहा गया है कि गले व हाथ मिलाने की बजाय इस बार बोलकर ईद की मुबारकबाद दें। यदि कहीं जमात में नमाज हो रही है तो लाइन का गैप रखें और एक पंक्ति में नमाजी एक एक मीटर की दूरी पर खड़े हों। वहीं, इस्लामी तालीम के मरकज दारुल उलूम ने कोरोना संक्रमण के मद्देनजर अहम फतवा जारी किया है। मुफ्ती हजरात ने मस्जिद या दूसरी जगह पर इमाम सहित तीन या पांच लोगों के साथ ईद-उल-फितर की नमाज अदा करने की अपील की है। यह भी कहा कि मजबूरी में ईद की नमाज माफ है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप