लखनऊ, जेएनएन। दूरगामी सोच के धनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को गंगा नदी के नर्मदा से संगम का द्वार खोल दिया। इसके साथ ही विश्व की सबसे बड़ी प्रतिमा स्टेच्यू आफ यूनिटी भी वाराणसी के करीब आ गई। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को अपने गृह जनपद केवड़िया से जोड़ने के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग से नई ट्रेन को पीएम हरी झंडी दिखाई। सीएम योगी आदित्यनाथ भी इस वर्चुअल शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल थे। 

देश में कोरोना संक्रमण काल में भी पर्यटन उद्योग बढ़ाने को लेकर बेहद गंभीर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज जिस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई है, वह वाराणसी को स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से जोड़ेगी। ट्रेन वाराणसी से गुजरात के केवड़िया तक जाएगी, जहां पर स्टेच्यू ऑफ यूनिटी है। वाराणसी आने वाले पर्यटक अब वाराणसी से केवड़िया के जुड़ने के साथ ही स्टेच्यू आफ यूनिटी के भी नजदीक होंगे। वाराणसी से अब केवड़िया तथा केवड़िया से वाराणसी के बीच सीधी ट्रेन सेवा शुरू होने से लोग काफी राहत महसूस कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को गुजरात के केवडिय़ा के लिए वाराणसी से सुपरफास्ट ट्रेन को रवाना किया। 09103/04 केवडिय़ा से वाराणसी महामना एक्सप्रेस साप्ताहिक ट्रेन है। ट्रेन छिवकी (प्रयागराज), सतना, जबलपुर, भुसावल व सूरत के रास्ते अगले दिन दोपहर 2.12 बजे केवड़िया पहुंचेगी।

वाराणसी से केवड़िया सुपरफास्ट ट्रेन वाराणसी कैंट से प्लेटफार्म नंबर एक से चलेगी। वाराणसी के साथ ही देश के सात अन्य शहरों से भी ट्रेन को केवड़िया के लिए रवाना किया गया है। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र तथा देवाधिदेव महादेव के धाम वाराणसी को विश्व पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के लिए केंद्र व राज्य सरकार की ओर से निरंतर प्रयास चल रहे हैं। गंगा नदी से नर्मदा नदी को जोड़ने के लिए चलाई जा रही ट्रेन को स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए वाराणसी कैंट स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर किया। नई ट्रेन के संचालित हो जाने के बाद अब सैलानियों को गुजरात से काशी तक का सफर और आसान हो गया।

गुजरात में नर्मदा नदी के किनारे ही सरदार सरोवर बांध के निकट स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का निर्माण किया गया है। स्टेच्यू ऑफ यूनिटी के साथ केवड़िया क्षेत्र को दुनिया के नक्शे पर लाने के लिए तमाम योजनाएं धरातल पर उतारी जा रही है जिनमें वाराणसी से केवड़िया तक की यह नई ट्रेन संचालित करना भी शामिल है।

सरदार वल्लभ भाई पटेल की गगनचुंबी प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी देखने के लिए वाराणसी से गुजरात के केवड़िया गांव जाने में अब आसानी होगी। वाराणसी से साप्ताहिक ट्रेन महामना एक्सप्रेस संचालित की जा रही है। इस ट्रेन के चलने से उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार तथा छत्तीसगढ़ के शहरों के लोगों को स्टेच्यू ऑफ यूनिटी देखने जाने में आसानी होगी। अभी वहां तक सीधी ट्रेन नहीं थी, लोगों को वडोदरा के बाद सड़क मार्ग से जाना पड़ता था। फिलहाल यह भी अन्य ट्रेनों की तरह विशेष ट्रेन के रूप में चलेगी। इसके लिए यात्रियों को भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम लिमिटेड की वेबसाइट या मोबाइल एप से टिकट बुक कराना होगा। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप