लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने की रफ्तार तेज हो गई है। बीते एक महीने में रिकवरी रेट में 11 फीसद से ज्यादा का सुधार हुआ है। प्रदेश में चौबीस घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 2,351 नए रोगी मिले हैं। अब तक कुल 4.59 लाख लोग कोरोना की गिरफ्त में आए हैं, जिसमें 4.22 लाख मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अब रिकवरी रेट बढ़कर 91.91 प्रतिशत हो गया है, जो राष्ट्रीय स्तर के 88 फीसद से बेहतर है। वहीं नए मरीजों के मुकाबले ठीक होने वाले रोगियों की संख्या ज्यादा होने के कारण एक्टिव केस घटकर 30,416 रह गए हैं।

उत्तर प्रदेश में 17 सितंबर को सबसे ज्यादा 68,235 एक्टिव केस थे। तब कोरोना वायरस के 3.54 लाख रोगी थे, जिसमें 2.83 लाख स्वस्थ होने से रिकवरी रेट 80 फीसद था। तब से लगातार 33 दिनों से इसमें लगातार गिरावट आ रही है। अब तक 55.43 फीसद केस घटे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में अब तक 13.52 लाख लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की जा चुकी है। बीते 24 घंटे में 30 और मरीजों की मौत के साथ अब तक कुल 6,714 लोगों की जान यह खतरनाक वायरस ले चुका है।

उत्तर प्रदेश में चौबीस घंटों के दौरान 1.51 लाख लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया। अब तक कुल 1.31 करोड़ लोगों की कोरोना जांच की जा चुकी है। कोविड के साथ अब नॉन कोविड केयर पर भी अस्पतालों में विशेष ध्यान दिया जा रहा है। बीती 18 अक्टूबर को सरकारी अस्पतालों में 6,664 बच्चों का जन्म हुआ। इसमें 6,513 की नॉर्मल और 155 की सिजेरियन डिलेवरी हुई।

टीकाकरण से छूटे 3.50 लाख बच्चों को नवंबर से लगेंगे टीके : कोरोना महामारी के कारण टीकाकरण से छूट गए प्रदेश के करीब 3.50 लाख बच्चों व चार लाख गर्भवती महिलाओं के लिए नवंबर से विशेष टीकाकरण अभियान शुरू किया जाएगा। इसकी तैयारियां स्वास्थ्य विभाग ने शुरू कर दी हैं। यह बच्चे व महिलाएं एक से 15 अक्टूबर तक चलाए गए दस्तक अभियान में चिन्हित किए गए हैं।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस