लखनऊ, जेएनएन। CoronaVirus Positive in UP : यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। शुक्रवार को किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी और मेरठ की सैंपल रिपोर्ट आने के बाद 18 पॉजिटिव केस और सामने आए हैं। इनमें से 13 संक्रमित वे है जो बीते दिनों तब्लीगी जमात में शामिल होकर लौटे हैं। इस तरह उत्तर प्रदेश में अब तक 443 कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं और इसमें से अकेले तब्लीगी जमात के 250 हैं। यूपी में कोरोना वायरस का कहर 75 में से 41 जिलों में फैल गया है।

उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को अन्य दिनों की अपेक्षा कम संक्रमित लोग सामने आए, लेकिन 515 संदिग्ध लोगों को अस्पतालों में भर्ती करवाया गया। इसी तरह अब तक 8771 लोगों को अभी तक अस्पताल में क्वारंटाइन करवाया जा चुका है। यह वे लोग हैं जो कोरोना के पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आए थे। लखनऊ में एक और संक्रमित स्वस्थ हुआ। अब तक कुल 32 संक्रमित लोग अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं। यूपी में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 88 संक्रमित लोग आगरा में हैं। 

शुक्रवार को जो 18 नए कोरोना पॉजिटिव लोग सामने आए इसमें से आगरा के पांच, मेरठ के चार, हापुड़ के तीन और बदायूं का एक वह लोग हैं, जो तब्लीगी जमात में शामिल होकर यूपी लौटे हैं। वहीं नोएडा, रामपुर, कन्नौज, बुलंदशहर और मथुरा में एक-एक पॉजिटिव पाया गया। कन्नौज में पहला पॉजिटिव पाया गया।

अब तक नोएडा में 64, पीलीभीत में दो, बस्ती में नौ, मुरादाबाद में दो, बरेली में छह, कौशांबी में दो और रामपुर व कन्नौज में मिले एक-एक संक्रमित तब्लीगी जमात के नहीं हैं। आगरा में 88 में से 48 पॉजिटिव लोगों में तब्लीगी जमात के हैं।

इसी तरह लखनऊ में 29 में से 17, गाजियाबाद में 25 में से 14, कानपुर में नौ में से आठ, वाराणसी में नौ में से चार, शामली में सभी 17, जौनपुर में चार में से तीन, बागपत में पांच में से चार, मेरठ में 49 में से 29, बुलंदशहर में नौ में से पांच, हापुड़ में सभी छह, गाजीपुर में सभी पांच, आजमगढ़ में सभी चार, फीरोजाबाद में सभी 11, हरदोई में सभी दो, प्रतापगढ़ में सभी छह, सहारनपुर में सभी 20, शाहजहांपुर में एक, बांदा में सभी दो, महाराजगंज में सभी छह, हाथरस में सभी चार, मिर्जापुर में सभी दो, रायबरेली में सभी दो, औरैया में सभी तीन, बाराबंकी में एक, बिजनौर में एक, सीतापुर में सभी 10, प्रयागराज में एक, मथुरा में तीन में से दो, रामपुर में सात में से एक, मुजफ्फरनगर में चार में से तीन, बदायूं में दो और अमरोहा में सभी सात पॉजिटिव लोग तब्लीगी जमात में शामिल होकर वापस लौटे हैं। 

8798 की रिपोर्ट आई निगेटिव,101 की आना बाकी

यूपी में अभी तक 9332 संदिग्ध लोगों के नमूने जांच के लिए लैब भेजे जा चुके हैं और इसमें से 8798 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 101 की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

लखनऊ में 22 जमातियों के सम्पर्क में आए हजार से अधिक संदिग्धों की तलाश

लखनऊ में हॉटस्पॉट इलाकों को सील करने के बाद भी कोरोना का खतरा कम नहीं हुआ है। जमातियों के बारे में मिली नई जानकारी चिंता बढ़ाने वाली है। स्वास्थ्य विभाग ने जो जानकारियां जुटाई हैं, उनके मुताबिक कोरोना से संक्रमित जमाती लॉकडाउन के बाद भी लोगों से लगातार मिल रहे थे। माना जा रहा है कि यहां पर एक संक्रमित जमाती लगभग 50 लोगों के सम्पर्क में रहा और कई घंटे उनके बीच बिताए हैं। अब तक की पड़ताल के हिसाब से कैंट इलाके में एक हजार से अधिक कोरोना संदिग्ध लोग मौजूद हैं और सारे हॉटस्पॉट वाले इलाकों को मिलाकर देखें तो यह संख्या बहुत बड़ी है। इन स्पॉट पर एलआईयू और पुलिस संदिग्धों की तलाश में लगी है।

लखनऊ का कैंट इलाका सबसे संवेदनशील

कैंट में ही सबसे अधिक 22 जमाती मिले हैं। यह इलाका सबसे अधिक संवेदनशील है। इनके सीधे सम्पर्क में आए एक हजार से अधिक लोग संदिग्ध हैं। इनकी सूची स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन स्तर तक तैयार होकर पहुंच चुकी है। इन्हें तलाश कर क्वारंटीन किया जा रहा है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि हर जमाती के सम्पर्क में आए लोगों का आंकड़ा तेजी से जुटाने में स्वास्थ्य टीम लगी है। पड़ताल में हर चिह्नित व्यक्ति को तुरंत क्वारंटीन किया जा रहा है। उनके नमूने जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस